Now Read and Share Your Own Story in Odia! 90% Odia Sex Story Site

Archives

य स्वीट हार्ट… तुम कैसे हो?
मुझे याद करते हो ना?
आज रात मैं एक हॉट मूवी देख कर आई और अब एक बेचैनी सी है मुझ में!
इस बेचैनी को उतारने और अपना मूड ठण्डा करने के लिए मैं तुम्हारे लिए एक कन्फेशन रेकॉर्ड कर रही हूँ।
तुम रियलिटी शो देखते हो ना? एक रियलिटी शो है जिसमें एक लड़की अपने बायफ़्रेंड की लॉयल्टी टेस्ट कराती है।
बेसिकली वो शो वाले उस बायफ़्रेंड के पास एक मॉडेल को भेजते हैं उसे सिड्यूस करने के लिए।
मैं एक दूसरी एजेन्सी के यहाँ काम कर रही थी और गेस वॉट?
उस …
हाय जानू… शो के बाद मैं रितिन के साथ लोंग ड्राइव पर गई थी और यह लोंग ड्राइव इतनी एग्ज़ाइटिंग थी कि मुझसे रहा नहीं गया और जल्दी घर आकर तुम्हारे लिए यह कन्फेशन रेकॉर्ड कर रही हूँ।
ईव्निंग में मुंबई चमक उठती है और जब से मैं यहाँ आई हूँ, इस सिटी की दिवानी बन गई हूँ।
दिवानगी से याद आया, रितिन भी मुझ पर दीवानों की तरह फिदा है। मैंने तुम्हें बताया था ना कि कैसे शो के दौरान वो मुझे चोरी छुपे किस कर रहा था।
और उससे भी उसका मन संतुष्ट नहीं हुआ। मैं जैसे ही …
Indian Incest Gundo se chudi bahan se shadi ki
Waise to ye meri pahali kahani he I hope Aaj ko Achi Lage
Aaj me apko ek story batane jaaraha hu jo mere best friend ki real kahani he.
Kahani ke patro ke naam kuch es tarah he
Dinesh 25 Saak ka ek naujan ladaka
Preeti 22 Saal ki ladaki
aur en dono ki maa SumanDevi – 45 Years
Ye kahani kuch es prakash shuru hoti he
Dinesh aur usaki maa Suman devi bhopal me rahate the, Dinesh ne apne baap ko bachpan me hi kho diya tha to usaki maa …
मैंने पूछा- क्यों नीलम रानी… तेरी बलात्कार का ड्रामा खेलने की मर्ज़ी हो गई पूरी और साथ साथ में आदि मानव की चुदाई की भी? आया मज़ा मेरी जान को?’
नीलम रानी इतरा के बोली- मज़ा तो ख़ूब आया राजा, लेकिन बहन के लौड़े तूने कितना ज़ोरों से कुचला है मेरे मम्‍मों को… हरामी ने मलीदा बना के रख दिया मेरे बदन का… लेकिन बहनचोद अभी तेरा गेम पूरा नहीं हुआ है..अभी तो राजा तुझे मेरे मुताबिक़ चुदना है… हो जा तैयार साले, आज तेरी माँ चोदती हूँ… ना तेरी गाण्ड फाड़ दी तो कहना!
मैं बोला- रानी तूने ही …
मैं उसकी टांगों पर बैठा हुआ था, वो अपनी टांगें नहीं हिला पा रही थी, लेकिन वो अपना सिर दायें से बायें और फिर बायें से दायें कर रही थी।
उसने अपने हाथों से मेरी कलाइयाँ जकड़ रखी थीं। पता नहीं वो उन्हें रोकने के लिये जकड़े थी या उन्हें तेज़ करने के लिये।
नीलम रानी के रसीले होंठ हल्के हल्के कंपकंपा रहे थे, उसकी आँखें आधी खुली आधी मुंदी हुई थीं और उसके नथुने बीच बीच में फड़फड़ाने लगते थे।
इस समय नीलम रानी उत्तेजना की पराकाष्ठा पर पहुँच चुकी थी, मेरा खुद भी चुदास की तेज़ी से बुरा …
Mu Tumara Ati Priya Sunita Bhauja. Ajira e story  “ବେସ୍ୟା ମାୟା ଖୋଜୁଛି ଏକ ନୁଆ ଗ୍ରାହାକ (Maya Khojuchi Eka Nua Grahaka) -1″ ra dutiya bhaga. E Kahani Padhiba Purba Ru apana mane e kahani ra mula story ku padhantu

ବେସ୍ୟା ମାୟା ଖୋଜୁଛି ଏକ ନୁଆ ଗ୍ରାହାକ (Maya Khojuchi Eka Nua Grahaka) Part- 1

 

Jibana maya sahita jaha kare sabu gan ra aau tini jana toka nka agare asi kahe ritu, kailasa aau ajya. E tini jana jibana katha suni taku maya ku samaste missi gehiba boli patei dele. Jibana samaste missi gehibaku raji hoigala. Tara kana jaichi, may aba kana tara

ये स्टोरी आज से कुछ महिना पहले की हे बात एसी हे की में रोज़ जब भी घर से निकल क्र अपने जॉब पर जाता हूँ. मेरे घर के थोडा फासले पर एक स्कूल हे वही मेरा रोज़ आना जाना रहता हे और जेसे ही में स्कूल के पास पहोंचता हूँ तो एक आंटी अपने चाइल्ड को स्कूल ड्राप करने आती हे और रोज़ रोज़ मेरा और उनका फेस देखते थे और वो अक्सर मुझे देख क्र स्माइल भी देती थी. वो स्कूटी पे आती थी और जब वो गाडी खड़ी करके अपने बच्चे को स्कूल में ले जाती तो …
मैं इंजीनियरिंग कॉलेज में दूसरे वर्ष का छात्र हूँ। पहला साल खत्म होने के बाद मैं कमरे की तलाश में था। पहले साल में तो हॉस्टल में था इसलिए मुझे कमरे की चिन्ता नहीं थी, लेकिन दूसरे साल में हॉस्टल में नहीं रह सकते इसलिए अपना खुद का कमरा लेना ही पड़ता है।
मैंने अपने एक सीनियर आशीष के कहने पर बस स्टैण्ड के पास एक कमरा ले लिया।
कमरे की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी लेकिन कमरा काफी सस्ता था और बेवजह की रोक-टोक नहीं थी, इसलिए मैंने वहाँ रहने का फैसला ले लिया।

मेरा कमरा छत पर था,

ये स्टोरी आज से कुछ महिना पहले की हे बात एसी हे की में रोज़ जब भी घर से निकल क्र अपने जॉब पर जाता हूँ. मेरे घर के थोडा फासले पर एक स्कूल हे वही मेरा रोज़ आना जाना रहता हे और जेसे ही में स्कूल के पास पहोंचता हूँ तो एक आंटी अपने चाइल्ड को स्कूल ड्राप करने आती हे और रोज़ रोज़ मेरा और उनका फेस देखते थे और वो अक्सर मुझे देख क्र स्माइल भी देती थी. वो स्कूटी पे आती थी और जब वो गाडी खड़ी करके अपने बच्चे को स्कूल में ले जाती तो …
वह अभी तक ना सिर्फ़ अपने बदन से नादान दिखता था बल्कि वह अपने मन से भी काफ़ी नादान ही था।
अभी तक भी वह किशोरवय लड़कों की भान्ति केवल अपने पड़ोस की भरे पूरे बदन की बच्चों वाली, बड़ी बड़ी चूचियों वाली आन्टियों और चाचियों को ही देख कर उनके साथ चुदाई की कल्पना किया करता था।
वह हर रात अपने साथ बिस्तर में अपनी चाची की चुदाई की कल्पना करता था जो हर रोज उसे मुस्कुरा कर अपने साथ सोने के लिये बुला लिया करती थी। इसी बात को सोच सोच कर वो मुठ मार मार कर अपना …