Now Read and Share Your Own Story in Odia! 90% Odia Sex Story Site

Archives

मेरा नाम संजय चोपड़ा है और पेशे से मैं एक डाक्टर हूँ, रायपुर छत्तीसगढ़ में रहता हूँ।
एमबीबीएस करने बाद सरकारी हस्पताल में नौकरी मिल गई। 3-4 नौकरी करने के बाद रायपुर से करीब 150 किलोमीटर दूर एक गाँव में पोस्टिंग हो गई, गाँव का नाम था खतौली।
गाँव में एक छोटी सी डिस्पेन्सरी थी, एक स्कूल था और करीब 70-80 कच्चे पक्के मकान थे।
एक बड़ी सी हवेली थी ज़मींदार की, जो गाँव का सरपंच भी था।
जब मैं चार्ज लेने पहुँचा तो देखा वहाँ पर डॉ बलविंदर सिंह थे। हम दोनों ने साथ साथ ही एमबीबीएस की थी, …
प्रेषक : अरमान
हैल्लो में अहमदाबाद का रहने वाला हूँ और मेरा नाम अरमान है और मेरी उम्र 28 साल की है में आज आप सभी के सामने एक सच्ची घटना लेकर आया हूँ जो मेरे जीवन की घटना है। दोस्तों में एक प्राइवेट कम्पनी में नौकरी करता हूँ। दोस्तों मेरी बीवी का नाम जानवी है जो कि एकदम भोली भाली लड़की है और उसे चुदाई के बारे में कुछ ज़्यादा पता नहीं है। जब में मेरी बीवी को चोदता हूँ और फिर लंड को मुहं में लेने के लिए बोलता हूँ तो वो हर बार मुझे मना कर देती …
Credit: Google Image

ସିନି ମୋ କାନ୍ଧରେ ମୁଣ୍ଡ ରଖି ତା ଦୁଃଖ କହୁଥିଲା ଆଉ ମୋ ପ୍ୟାଣ୍ଟ ଭିତରେ ମୋ ବାଣ୍ଡ ଠିଆହୋଇ ଯାଇଥିଲା। ସିନିକୁ ନିଶ୍ଚୟ ମୋ ପ୍ୟାଣ୍ଟ ଦେଖାଯାଉଥିବ। ସେ ତଳକୁ ଚାହିଁଥିଲା। ଏଇ ସମୟରେ ସିନି କହିଲା, ‘ଭାଇ, ଲଭ୍ ମେରେଜ୍ କରିଥିଲି। ହେଲେ ବିବାହର ପ୍ରଥମ କିଛି ମାସ ପରେ ସେ ଆଉ ଘରକୁ ହିଁ ଆସୁନାହାନ୍ତି। ଝିଅ ଜନ୍ମ ହେବାପରଠୁ ସେ ମୋତେ ଛୁଇଁ ନାହାନ୍ତି। ଶୁଣିଲି ଭୁବନେଶ୍ବରରେ ଆଉ ଜଣେ ଝିଅକୁ ଭଲ ପାଉଛନ୍ତି। ସବୁବେଳେ ସେଠି ରହୁଛନ୍ତି।’ ମୁଁ କଣ କହିବି କିଛି ଜାଣିପାରୁନଥିଲି। କହିଲି, ‘ତୁମେ ନିଜ ଶାଶୁଶଶୁରଙ୍କୁ କହିଲନି କାହିଁକି ?’ ସେ କାନ୍ଦିପକେଇ କହିଲା, ‘ସେମାନେ ବି ନିଜ ପୁଅ କଥା ହିଁ ଶୁଣୁଛନ୍ତି, ମୋତେ ଖାଲି ଏଇ ଘରଟା ଦେଇଛନ୍ତି। ମୁଁ ଝିଅକୁ ନେଇ ଏଠି ରହୁଛି। ମାସକୁ ମାସ ଟଙ୍କା ପଠେଇ ଦେଉଛନ୍ତି।

ଦିନେ ମୁଁ ହଠାତ୍ ଫେସବୁକରେ ଗୋଟିଏ ମେସେଜ୍ ପାଇଲି, ‘ଭାଇ, ମୋତେ ମନେ ରଖିଚ ନା ଭୁଲିଗଲ ?’ ମେସେଜ୍ ଆସିଥିଲା ଜଣେ ଝିଅ ପାଖରୁ, କିଏ ସେ ଝିଅ ମୁଁ ତ ଜାଣିପାରୁନି। ପରେ ସେ ନିଜେ ହିଁ କହିଲା ଯେ ତା ନାଁ ସିନି। ସିନି ନାଁ ଶୁଣିବାପରେ ମୋର ସବୁ ମନେ ପଡ଼ିଲା। ସେ ଆମ ଘର ପାଖରେ ରହୁଥିଲା ଯେତେବେଳେ ମୁଁ ସ୍କୁଲରେ ପଢୁଥିଲି। ସେତେବେଳେ ସେ ବୋଧହୁଏ ୩ କିମ୍ବା ୪ ଶ୍ରେଣୀରେ ପଢୁଥିଲା। ସବୁବେଳେ ଆମ ଘରେ ଆସି ଆଡ଼ଡା ଜମେଇବା ତା କାମ ଥିଲା। ଅଧିକାଂଶ ଦିନ ଆମଘରେ ଖିଆପିଆ କରୁଥିଲା। ତାଙ୍କ ବାପାମା ଚାକିରୀ କରୁଥିଲେ। ସେ ଯାହେଉ ସିନି ସହ କଥା ହେବାପରେ ଅତୀତର ଅନେକ କଥା ମନେ ପଡ଼ିଲା। ସେ ଏବେ ବିବାହିତା ଆଉ ଗୋଟିଏ ଝିଅର ମା। ଲଭ୍ ମେରେଜ୍ କରିଛି ବୋଲି କହିଲା। ମୋ
प्रेषक : राहुल
हैल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम राहुल है और मैंने इस वेबसाइट पर बहुत सारी कहानियां पड़ी है और आज में अपनी एक सच्ची कहानी लिखने जा रहा हूँ। दोस्तों पहले में अपने बारे में बता देता हूँ में एक 25 साल का लड़का हूँ मेरी हाईट 5″5 इंच और में पंजाब का रहने वाला हूँ। में जॉब करने के लिए गुजरात में आया था और रहने के लिए मैंने एक फ्लेट किराये पर लिया। दोस्तों में यहाँ पर नया था तो ज्यादा कुछ नहीं जानता था क्योंकि में पंजाब से हूँ और गुजरात में पहली बार आया था।…
प्रेषक : अजय सिंह
हैल्लो दोस्तो सबसे पहले जो मेरी स्टोरी पढ़ रहा है। उसे मेरी चड्डी खोलकर लंड खड़ा करके सलाम। दोस्तों मेरा नाम अजय कुमार मीणा है और में कोटा के एक कॉलेज मे MBA कर रहा हूँ। दोस्तों ये स्टोरी आज से तीन महीने पहले की है जब मेरे पड़ोस मे एक आंटी रहती थी। उनकी भतीजी {देवर की लड़की} उनके यहाँ पर रहने आई थी। उनके यहाँ पर वो कुछ दिनों के लिए आई थी क्योंकि वो भी CA की पड़ाई कर रही थी और हम जहाँ पर रहते है वहीं पर एक अच्छी कोचिंग है …
प्रेषक : पिंकू
हैल्लो दोस्तो मेरा नाम पिंकू है और मेरी इस वेबसाइट पर यह दूसरी स्टोरी है। मेरी पहली स्टोरी “मकान मालिक के बेटी से शुरुवात” थी और वो आप सभी को भेज चुका हूँ और आज आप सभी के सामने कैसे उसकी माँ यानी मकान मालिक की बीवी को चोदा वो बताने जा रहा हूँ। तो दोस्तो मेरे बारे में एक बार फिर से दोहराता हूँ। में मेरे मकान मालिक की बीवी को आंटी बुलाता था और वो बहुत ही सेक्सी औरत थी। फिर उसकी बेटी बरखा के घर से चले जाने के बाद में फिर से आंटी …
प्रेषक : राज
हैल्लो दोस्तों मेरा नाम राज है मेरी उम्र 24 साल की है। दोस्तों मेरी हाईट 5’10 इंच है और मेरा लंड 7 इंच लंबा और 2.5 इंच मोटा है और दोस्तों में दिखने में हेंडसम हूँ। में कामुकता डॉट कॉम का बहुत बड़ा फैन हूँ लेकिन दोस्तों ये मेरी पहली स्टोरी है। आज में आपको एक ऐसी चुदाई के बारे में बताने जा रहा हूँ.. जिसे पड़कर लंड के राजाओ का लंड एकदम टाईट और चूत की रानीयों की चूत गीली हो जाएगी। तो दोस्तों में समय बर्बाद न करके सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ।

दोस्तों

ମୁଁ ରୋହନ । ମୋ ବୟସ ୧୯ ବର୍ଷ । ମୁଁ ମୋ ବାପା ବୋଉଙ୍କର ଏକମାତ୍ର ସନ୍ତାନ । ମୋ ବାପା ଜଣେ ପଶୁ ଡାକ୍ତର । ସେ ସକାଳ ୯ ଟାରୁ ରାତି ୮ ଟା ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ ବାହାରେ ରୁହନ୍ତି । ଟଙ୍କା ପଇସା ଦୃଷ୍ଟିରୁ ଆମର ଗୋଟିଏ ସ୍ୱଚ୍ଛଳ ପରବାର । ମୋ ବୋଉ ଜଣେ ଗୃହିଣୀ । ସେ ଦେଖିବା ପାଇଁ ବହୁତ ସୁନ୍ଦର । ବୋଉ ସବୁଦିନେ ସକାଳେ ଯୋଗ କରେ । ସେଥିପାଇଁ ତା ଶରୀର ବିଲ୍କୁଲ୍ ଫିଟ୍ ରହିଛି । ବୋଉ ଘରେ ଅଧିକାଂଶ ସମୟରେ ମାକ୍ସି ପିନ୍ଧେ । ବାହାରକୁ ଗଲେ କିମ୍ବା ଘରେ ବେଳେ ବେଳେ ଶାଢ଼ୀ ପିନ୍ଧେ । ସେ ପତଳା ଏବଂ ଅଧିକ ସ୍ୱଚ୍ଛ ଶାଢ଼ୀ ସାଙ୍ଗକୁ ଗାଢ଼ ରଙ୍ଗର ଟାଇଟ୍ ବ୍ଲାଉଜ ପିନ୍ଧିବା ପାଇଁ ପସନ୍ଦ କରେ । ବୋଉ ବହୁତ ଦେଖେଇ ହେବା
Hi friends, mera naam ravi hai or main rajasthan ka rehne wala hoon main sexy kahaniyan padne ka bahut shokin hoon, to maine bhi socha kyo na aaj apni bhi ek sachi ghatna aap logo ko batau aur meri umar 22 saal hai or mera land 6.5 inch lamba or 3 inch mota hai, meri mosi ki ladki ka naam mona hai jo bahut sundar hai aur uski umar 21 saal hai or uska figure 34,28,36 hai use dekhte hi chodne ka man karta hai,

 ye baat tab ki hai jab main mere mama ki ladki ki shaadi me gaya