Now Read and Share Your Own Story in Odia! 90% Odia Sex Story Site

Hindi Sex Story

मेरी बीवी को ट्राई करोगे – 3 ( Meri Biwi Ko Try Karogi -2)

प्रेषक : अरमान
“मेरी बीवी को ट्राई करोगे – 2” से आगे की कहानी …
दोस्तों यह इस कहानी के आखरी भाग है जिसमे में आप सभी को आज अपनी बीवी की उस सच्चाई के बारे में बताऊंगा.. जिसमे मेरी बीवी को बड़ा लंड बहुत पसंद है लेकिन वो मुझसे छुपा रही थी। तो दोस्तों अब अपनी स्टोरी पर आता हूँ।

फिर तभी मैंने देखा कि अंकल बेड पर लेटे हुए है और मेरी बीवी कपड़े चेंज कर रही है तभी उसने साड़ी उतार दी और ब्लाउज और पेटिकोट भी उसके बाद अलमारी में से वही सिल्वर वाली ब्रा और पेंटी का सेट निकाला और फिर उसने पहन लिया और अंकल के पास जाकर बैठ गयी। तभी अंकल ने उसकी पीठ पर हाथ घुमाया और फिर।
अंकल : जानेमन.. आज तो बहुत टाईम है तो फिर हम थोड़ा आराम से करेंगे।
मेरी बीवी : ठीक है.. कर लो जैसे भी आपकी मर्जी हो।
अंकल : डार्लिंग.. पास आवो ना।
यह कहकर उसे अपने पास सुला दिया और किस करने लगे।
मेरी बीवी : बस बहुत है रहने दो ना।
अंकल : तुम इतनी मस्त हो कि तुझे छोड़ने का मन ही नहीं करता।
मेरी बीवी : मुझे भी आपके साथ बड़ा मज़ा आता है लेकिन डर ये लगता है कि मेरे पति को पता ना चल जाए।
अंकल : अरे पगली उसे कौन बताएगा?
मेरी बीवी : फिर भी डर तो लगता है ना।
अंकल : अरे छोड़ ये सब बातें और मज़े करते है।
फिर उन्होंने बाते करते करते मेरी बीवी को अपने ऊपर लेटा दिया और गले में किस करते करते गांड पर हाथ फैरने लगे।
मेरी बीवी : अभी लेस मत खोल देना।
अंकल : ठीक है पर मेरे तो उतार दूँ ना।
मेरी बीवी : हाँ उतार दो ना मैंने कब रोका है।
अंकल : अब तुम ही उतार दो।
फिर यह कहकर वो बेड के पास में खड़े हो गये। फिर मेरी बीवी ने उनकी पेंट के बटन खोल दिये और फिर ज़िप भी खोल दी और पेंट को नीचे उतारने लगी और फिर पूरी पेंट को उतार कर साईड में रख दिया। फिर अंकल सिर्फ़ अंडरवियर में थे उनकी बॉडी जबरदस्त थी क्योंकि वो आर्मी में थे और पंजाब से थे। वैसे भी पंजाबी के लोग हट्टे कट्टे होते है तभी तो अंकल भी एकदम हट्टे कट्टे जवान लग रहे थे। फिर पेंटी में मेरी वाईफ बेड पर बैठी हुई थी तभी उन्होंने उसका हाथ पकड़ कर उनके लंड पर रख दिया और मेरी बीवी फिर लंड पर हाथ फैरने लगी और बाहर से ही उसे पकड़ रही थी।
फिर अंकल उसके मुहं के पास ले गये और इशारे से कहा कि यहाँ पर किस करो। मेरी बीवी पूरा मुहं खोलकर अंडरवियर के बाहर से ही लंड मुहं में लेने की कोशिश करने लगी और अंकल उसके कंधे पर हाथ फैरते हुए उसके बालों से खेलने लगे। तभी मेरी बीवी ने उनके मुहं की तरफ देखा तो अंकल बोले उतार दो अगर उतरना हो तो। फिर जैसे ही मेरी बीवी ने अंडरवियर उतारी.. में तो देखता ही रह गया सच में इतना मोटा और कला लंड था जैसे सच में किसी अफ्रिकन सांड का लंड हो वो अभी तक पूरी तरह टाईट नहीं हुआ था अंडरवियर निकालने के बाद अंकल ने लंड पकड़ कर मेरी बीवी के चहरे पर रखा तो आप सभी नहीं मानोगे ऊपर से लेकर नीचे तक पूरा मुहं ढक गया इतना बड़ा था और फिर अंकल मेरी बीवी के मुहं पर फैरने लगे।
फिर मेरी बीवी का हाथ पकड़ा और उसके हाथ में लंड थमा दिया लेकिन वो इतना बड़ा और मोटा था की मेरी बीवी के एक हाथ में तो आता ही नहीं था इसलिए उसने दोनों हाथ से पकड़ा हुआ था फिर वो दोनों हाथ से हिला रही थी तभी अंकल ने मुहं में लेने के लिए इशारा किया लेकिन मेरी बीवी ने सर हिलाकर ना बोल दिया। तभी अंकल ने कहा कि ठीक है सिर्फ़ आगे का सुपाड़ा ही अंदर डालना। फिर मेरी बीवी ने दोनों हाथ से पकड़ कर लंड का सुपाड़ा आगे किया और अपना मुहं खोला और फिर थोड़ा सा लंड अंदर ले लिया। तभी अंकल ने उसे कहा कि थोड़ा और लो और फिर जैसे ही उसने थोड़ा और लंड अंदर लिया और हाथ हटाए। फिर वैसे ही अंकल ने उसका सर पकड़कर पूरा का पूरा लंड उसके मुहं में डाल दिया। तभी मेरी बीवी ने ज़ोर से अंकल की जांघे पकड़ ली ।
फिर अंकल उनका लंड अंदर बाहर करने लगे। तभी थोड़ी देर बाद मेरी बीवी ने इशारे से कहा कि बेड पर लेट जाओ। तभी वो लेट गये और मेरी बीवी उनकी जांघ की तरफ मुहं करके बैठ गयी और मेरी बीवी की गांड उनके मुहं की तरफ थी। तभी मेरी बीवी ने उनका काला लंड हाथ में पकड़ा और फिर मुहं में लोलीपोप की तरह चूसने लगी। तभी अंकल मेरी बीवी की गांड के साथ खेल रहे थे वो कभी हाथ फैरते तो कभी जोर से गांड को दबाते। तभी थोड़ी देर बाद उन्होंने इशारे में मेरी बीवी को कहा कि उसके ऊपर आ जाए। तभी वो अंकल की छाती पर बैठ गयी और लंड चूसने लगी। अंकल ने उसकी गांड पकड़ कर अपने मुहं की तरफ खींच दिया और पेंटी की साईड लेस खोल दी। फिर मेरी बीवी ने भी अपने हाथ से इशारा करते हुए अंकल से कहा कि उसकी ब्रा भी खोल दे। अब वो पूरी नंगी हो गयी थी फिर अंकल ने उसकी गांड बिल्कुल अपने मुहं पर रख दी और नीचे से उसकी चूत को चाटने लगे और वो अंकल का लंड इस कदर चूस रही थी जैसे उसने ब्लू फ़िल्मो में देखा था, में तो दंग रह गया कि ये सब क्या हो रहा है। तभी थोड़ी देर तक वो दोनों 69 पोजिशन में सेक्स करते रहे।

फिर अंकल ने उसे पूछा कि क्या अंदर डालना है? तभी वो बोली नहीं अभी नहीं थोड़ी देर बाद। फिर अंकल ने कहा कि ठीक है एक काम कर तू यहाँ पर लेट जा.. तो मेरी बीवी लेट गयी और अंकल ने उसके दोनों पैर फैला दिये और अपना मुहं बीच में डालकर मेरी बीवी की चूत को चूसने लगे और उसकी आवाज़ मुझे साफ साफ सुनाई दे रही थी। तभी मेरी बीवी ने जोर से उनका सर पकड़ा हुआ था और चूत की तरफ दबा रही थी। फिर थोड़ी देर बाद अंकल ने अपनी ज़ेब में से एक कंडोम निकाला और मेरी बीवी के हाथ में दे दिया और लेट गये बेड पर। फिर मेरी बीवी उनकी जांघो पर बैठ गयी और लंड को दोनों हाथों से पकड़ कर खड़ा किया। फिर उस पर कंडोम लगाया और धीरे धीरे नीचे उतारने लगी लेकिन वो लंड ही इतना बड़ा था कि कंडोम आधे तक ही आ रहा था। तभी अंकल ने इशारे से बताया कि बाहर निकाल दो। तभी मेरी बीवी ने कंडोम निकाला और लंड को सीधा ही अपने मुहं में डाल दिया। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।
अब अंकल का लंड एकदम खड़ा हो चुका था करीब 8 इंच लम्बा और 2 इंच गोल और वो पूरा इतना काला था कि जैसे कोई आफ्रिकन रियल में मेरी बीवी को चोद रहा हो। फिर मेरी बीवी ने लंड को पकड़कर अपनी चूत पर टच करवाया और अंकल को इशारा किया कि अंदर डाल दो। तभी अंकल ने कहा कि तुम्हे नीचे आना है या ऊपर.. तो मेरी बीवी ने कहा कि पहले नीच आ जाती हूँ और बाद में ऊपर आ जाऊंगी। अंकल बेड पर खड़े हो गये और मेरी बीवी को लेटा दिया। फिर मेरी बीवी के दोनों पैर फैला कर बीच में बैठ गये और मेरी बीवी का हाथ पकड़ कर लंड को हाथ में थमा दिया और फिर बोले कि तुम ही डाल दो।
तभी मेरी बीवी ने उनका लंड पकड़ा और अपनी चूत के दरवाजे पर ले आई और फिर अंकल को इशारा किया कि धक्का मारो। तभी अंकल ने हल्का सा धक्का लगाया लेकिन कुछ नहीं हुआ लंड बाहर का बाहर ही था। फिर मेरी बीवी ने अपना हाथ मुहं में डाला और थोड़ा सा थूक निकालकर अपनी चूत पर लगाया और फिर थोड़ा खड़े होकर उनका लंड मुहं में ले लिया ताकि पूरा थूक लगा सके और फिर बाहर निकाल दिया। फिर अंकल को बोला कि अब जोर का धक्का लगाओ। तभी अंकल ने उसकी कमर में हाथ डालकर पकड़ा और एक ही धक्का इतनी ज़ोर से मारा कि मेरी बीवी के मुहं से जबरदस्त आवाज़ निकली। तभी मेरी बीवी आगे से पूरी ऊपर हो गयी वो चाहती थी कि खड़ी हो जाए लेकिन कमर पर अंकल ने हाथ रखे हुए थे। फिर अंकल ने एक हाथ कमर से हटाकर उसके गले पर रखा और बड़ी वाली उंगली उसके मुहं में दे दी। तभी मेरी बीवी उसे चूसने लगी।
में पीछे की साईड था तो मुझे पूरा दिख रहा था की मेरी बीवी की चूत में लंड ऐसे फिट हो गया था कि अंदर हवा जाने की भी जगह नहीं थी। तभी थोड़ी देर बाद अंकल ने कमर में से हाथ हटाकर उसके दोनों कंधो पर रख दिया और पैरो से उसके पैर जकड़ लिए ताकि वो खड़ी ना होई सके और फिर आधा लंड चूत से बाहर निकाला और फिर से जोर का धक्का दिया इस बार बीवी ने ज़्यादा उछलकूद नहीं की.. लेकिन उसने भी अंकल की गांड पकड़ कर अपनी चूत की तरफ दबा रखी थी। तभी अंकल दोनों हाथों से मेरी बीवी के बूब्स दबा रहे थे और निप्पल मसल रहे थे। थोड़ी देर तक ये ही चलता रहा और अंकल ने चोदने की स्पीड बड़ा दी। फिर मेरी बीवी भी बोली कि क्या अब में ऊपर आ जाऊँ? तभी अंकल बैठ गये और मेरी बीवी उनकी गोद में ऐसे बैठी थी जिससे दोनों के मुहं आमने सामने आए और फिर उन्होंने किस करना शुरू कर दिया। फिर मेरी बीवी नीचे हाथ डालकर लंड को पकड़ कर हिलाने लगी अब वो थोड़ी ऊपर हुई और लंड को एक हाथ से पकड़कर अपनी चूत में डालने की कोशिश करने लगी।
फिर चूत के छेद पर लंड का सुपाड़ा सेट करने के बाद वो जैसे ही बैठी तो पूरा का पूरा लंड अंदर चला गया और तभी वो चिल्ला पड़ी। फिर अंकल ने उसकी गांड पर हाथ रख दिए और दबाने लगे। मेरी बीवी अंकल को कसकर पकड़ कर मज़े ले रही थी। तभी वो धीरे धीरे अपनी स्पीड बड़ाने लगे और उसके मुहं से आवाज़ भी बड़ने लगी और अंकल को कसकर नाख़ून मारने लगी। वो अपनी चूत को ज़ोर जोर से चुदवा रही थी और थोड़ी ही देर में वो अंकल से लिपट गयी और चिल्लाई आह्ह्ह पूरा निकल गया।
अंकल का लंड भी ऐसे ही अंदर था। फिर अंकल ने उसे लेटा दिया और साईड में से एक पैर ऊपर करके उसे जमकर चोदा और अंकल ज़ोर ज़ोर से आवाज़ करने लगे.. मुझे पता चल गया था कि शायद उनका निकालने वाला है तो में इच्छुक था वो भी देखने के लिए। फिर अंकल ने मेरी बीवी की तरफ देखा तो उसकी आँखे बंद थी। उन्होंने उसके गाल पर टच किया और पूछा कहाँ पर डालूँ सारा माल? तभी मेरी बीवी ने सर हिलाते हुए कहा कि अंदर मत गिराना। तभी उन्होंने कहा फिर कहाँ पर? तो वो बोली कि जहाँ पर तुम चाहो। फिर अंकल ने कहा कि.. क्या तुम मुहं में लोगी? फिर मेरी बीवी बोली कि कभी नहीं लिया मुझे पसंद नहीं है। तभी अंकल ने बोला कि तुम्हे तो मुहं में लेने के लिए लंड भी पसंद नहीं था फिर अब कैसा लगता है और वैसे ये भी वैसा ही है एक बार लेने की कोशिश तो करो। फिर भी मेरी बीवी ने मना किया.. लेकिन अंकल ने उसे थोड़ा और समझाया और तभी मेरी बीवी मान गयी।
तभी अंकल ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाने लगे और उनके मुहं से आवाज़े आ रही थी.. आआहह जानवी आआहह तेरी चूत में तो बहुत गर्मी है आहह आआआ बस अब निकालने वाला है ऐसे करते हुए उन्होंने अपना लंड बाहर निकाला और बेड के पास खड़े हो गये और मेरी बीवी बेड पर बैठ गयी। अंकल ने एक हाथ से लंड ज़ोर से हिलाया और दूसरे हाथ से मेरी बीवी की गर्दन पीछे से पकड़ कर उसका मुहं लंड के नज़दीक किया और मुहं खोलने का इशारा किया। तभी मेरी बीवी ने आखे बंद करके मुहं खोला और अंकल ने ज़ोर से उसके बाल पकड़े और उनके मुहं से आवाज़ आई अह्ह्ह जानवी लो और फिर उसका मुहं नज़दीक लेकर लंड उसके मुहं में डाल दिया। तभी मेरी बीवी ने थोड़ी देर मुहं में रखा और फिर लंड को बाहर निकाला। तभी मैंने देखा कि मेरी बीवी का मुहं पूरा भर गया था और उसके होठों पर अंकल के लंड की क्रीम छलक रही थी।
फिर मेरी बीवी ने अंकल का लंड पकड़ कर वापस मुहं में डाला और चूसने लगी। अंकल उसके गालों पर और बालों में हाथ घुमाकर प्यार करने लगे और मेरी बीवी के चहरे पर रौनक आ गयी। फिर थोड़ी देर बाद अंकल कपड़े पहन कर चले गये और फिर मेरी बीवी ऐसे ही नंगी बेड पर पड़े पड़े कुछ सोच रही थी। वो बहुत खुश थी। मैंने उसे इतना खुश कभी नहीं देखा था। तभी मुझे पता चल गया कि ये सब उसने ब्लू फिल्म देखकर सीखा है और उसे बड़े लंड पसंद है इसलिए वो चाहती है कि कोई बड़े लंड वाला उसे चोदे.. लेकिन मुझसे छुपकर ये सब करना चाहती है। वो नहीं चाहती कि मुझे कुछ पता चले इसलिए वो छुप छुपकर अंकल से चुदवाती है। फिर उस दिन मुझे भी बहुत मज़ा आया कि मेरी बीवी ने किसी और के साथ जमकर चुदाई की। अब सच में ये सब मुझे बार बार देखने का मन करता है ।।
धन्यवाद …

Related Stories

READ ALSO:   गाँव का डॉक्टर (Ganv Ka Doctor) - Hindi Sex Story

Comments