Now registration is open for all

Hindi Sex Story

प्रियंका के साथ एक रात की चुदाई

हैलो दोस्तो, मेरा नाम प्रेम मिश्रा है। मैं कानपुर का रहने वाला हूँ। मैं यहाँ पढ़ाई करता हूँ। मुझे पैसे कमाने का बहुत नशा है। इसलिए मैं कॉल-ब्वॉय का काम भी करता हूँ। मेरी उम्र 25 है और देखने में भी अच्छा हूँ। अब आप सबको और बोर ना करते हुऐ मैं सीधे कहानी पर आता हूँ।
ये तब की बात है जब मैं 22 साल का था तो मेरे फेसबुक पर एक फ्रेंड-रिक्वेस्ट आई, वो मैंने ऐड कर ली। फिर एक दिन उसका मैसेज आया कि वो मुझसे बात करना चाहती है। तो मैंने उसे अपना ईमेल बता दिया। उसके बाद हमारी बातें होने लगीं। वो एक कॉलेज गर्ल थी। उसकी उम्र 20 साल थी और और एक अच्छी लड़की थी। उसने मुझे बताया कि उसका कोई ब्वॉय-फ्रेंड नहीं है और न ही वो बनाना चाहती है।
क्योंकि उसके मुताबिक ब्वॉय-फ्रेंड सब जगह उसकी बात करेगा। इसलिए उसने किसी को भी अपना ब्वॉय-फ्रेंड नहीं बनाया है।

उसने कहा- वो भी जिन्दगी के मजे लेना चाहती है।
एक दिन उसने मुझे आने को कहा।
मैंने उसे बताया, “मैं एक कॉल-ब्वॉय हूँ।”
तो वो बोली- उसे पता है और उसने तभी मुझसे दोस्ती की है।
मैंने उससे कहा- वो पहले अपनी कोई फ़ोटो भेजे।
दो दिन बाद मेरे ईमेल पर एक फ़ोटो आई। फ़ोटो में वो बहुत सुन्दर दिख रही थी। तो मैं जाने को तैयार हो गया। उसने अपने कमरे का पता दिया। उसके कमरे पर मैं शाम 6 बजे पहुँच गया। जब मैंने उसे देखा तो देखता ही रह गया। वो एक मस्त लड़की थी। उसका साइज़ 32-28-34 होगा।
अभी मैं उसे देख ही रहा था कि उसने कहा- कहाँ खो गए हो?
मैंने कहा- तुम तो बहुत सुन्दर हो।
ये सुनकर वो उदास हो गई और बोली- क्या फायदा मैं आज तक प्यासी हूँ।
मैंने कहा- मैं हूँ ना।
उसके बाद मैं उसके साथ अन्दर आया उसने अपने परिवार की बहुत सी बातें बताईं और फिर हम लोग कॉलेज की बातें करते रहे। अब मुझे कुछ भूख लग आई थी। मैंने उससे कहा तो वो थोड़ी देर में दो प्लेट में मैग्गी ले आई। खाने के बाद हम कमरे में आ गए।
वो बोली- अभी आती हूँ।
ये कहकर वो बाथरूम में चली गई। दस मिनट बाद वो नाईट गाउन में आई। ये गुलाबी ड्रेस उस पर बहुत अच्छा लग रहा था। गाउन में से उसकी लाल ब्रा और काली पैंटी दिख रही थी।
उसने मुझे एक फ्लाइंग चुम्बन दिया। मैं सीधा उसके पास गया और उसे गले से लगा लिया। फिर मैंने उसे गले पर चुम्बन करना शुरू किया और वो तड़पने लगी। फिर उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए। दस मिनट तक मैं उसके चेहरे को चुम्बन करता रहा।
फिर मैंने उसके मम्मे पर अपना हाथ रख दिया। वो जोर से सिसकी अब मैं उसके मम्मों को दोनों हाथों से दबा रहा था। कुछ देर बाद मैं उसके पीछे गया और उसकी पीठ पर चुम्बन करने लगा।
मैंने पढ़ा था कि पीठ पर चुम्बन करने से लड़की जल्दी उत्तेजित होती है और वही हुआ, मेरे चुम्बन करते ही वो छटपटाने लगी।
फिर मैंने उसका गाउन उतार दिया और उसके हाथों को चूमने लगा। फिर धीरे-धीरे उसकी बगलों को चाटने लगा। ऐसा लगा जैसे वो पागल हो गई हो। और फिर वो झड़ गई, पर मैं अभी भी उसे चाट रहा था। कुछ देर बाद मैंने ब्रा के कप पर हाथ फिराया। उसके निप्पल खड़े हो गए थे। अब मैंने अपने हाथ पीछे करके उसकी ब्रा खोल दी।
वाह क्या दूध थे उसके.. और उन पर गुलाबी चूचुक.. मैं तो उन पर टूट पड़ा।
उसके एक दूध को चूस रहा था और दूसरे के निप्पल को अपनी चुटकी में लेकर मसल रहा था।
वो “उई ईईई” करके चीख रही थी। लगभग 15 मिनट तक ये सब चलता रहा, उसके बाद मैं उसकी कमर नाभि और पेट को चूमता हुआ नीचे आया। फिर मैंने उसकी पैन्टी को भी उतार दिया।
फिर उसकी जाँघों को चूमता हुआ उसकी चूत तक जा पहुँचा। जैसे ही मेरी जीभ ने उसकी चूत को छुआ, वो फिर झड़ गई और मैंने उसकी चूत का पूरा पानी पी लिया। मैंने उसे फिर से उत्तेजित करने के लिए उसकी चूत को चाटना शुरू किया और वो 5 मिनट में फिर से सिसकारने लगी। फिर मैंने देर न करते हुए अपने कपड़े निकाले। मेरा 8″ का लंड देख कर वो डर गई, पर मेरे कहने पर वो बिस्तर पर लेट गई। मैंने उसकी चूत पर लवड़ा रखकर धक्का मारा वो जोर से चिल्लाई।
मैंने पूछा- क्या पहली बार ले रही हो?
वो बोली- हाँ..
और उसके ‘हाँ’ बोलते ही मैंने उसे एक हाथ उसकी जांघों पर मारा और कहा- साली कुतिया तेरा खून तो निकला ही नहीं..?
तो उसने बताया, “उसने एक बार मोमबत्ती डाली थी तो सील टूट गई थी।
फिर मैंने लंड अन्दर डालना शुरु किया। वो चिल्ला रही थी, “अअअअ ह्ह्ह्हह्ह…।”
फिर मैंने लंड को अन्दर-बाहर करना शुरू किया। वो बहुत मज़े से चुदवा रही थी। और फिर 15 मिनट बाद मैं उसकी चूत में ही झड़ गया। उस रात मैंने उसकी गाण्ड भी मारी।
मैंने उसके साथ 3 बार सेक्स किया। उसके बाद प्रियंका ने सुबह मुझे चाय पिलाई और मुझे 5000 रुपए दिए जो पहले ही तय हो गए थे।
आपको मेरी कहानी कैसी लगी? बताएं जरूर। आप सब की प्रतिक्रिया देखकर ही मैं और भी कहानियां भेजूँगा। उसके बाद उसकी सहेलियों निशा, कामिनी,
रजनी और जिया को भी मैंने चोदा, पर वो सब मेरी अगली कहानियों में। तब तक के लिए बाय।
मेरी ईमेल आईडी है।

Related Stories

READ ALSO:   बहन की सहेली को चोदा (Bahan Ki Saheli Ko Choda)

Comments

  • navneet
    Reply

    Hii aunty bhabhi and gril’ s ager aap sex karna chati h to mujhe email kare