Now registration is open for all

Hindi Sex Story

गर्लफ़्रेण्ड संग ब्लू फ़िल्म बनाई






प्यार की बहाना में खोते हुए।  बीबी के नंगी सरीर के उपर सोते हुए आप सभी इस कहानी को पढ़ा कर बहत मजा लेंगे तो इस कहानी को आगे पढ़कर अपनी सुनीता भाभी से कमेंट भेजे। 

एक दिन रैना मुझसे मिलने आई, उसका कज़न ड्यूटी पर गया हुआ था।
मैं और रैना बडे दिनों बाद मिल रहे थे तो मैंने रैना के आते ही उसको पकड़ लिया और उसे चूमना शुरू कर दिया।
मेरे इस वार से वो सकपका गई पर मिली तो वो भी बड़े दिनों बाद थी तो आग दोनों तरफ़ बराबर लगी थी।
उसने भी मुझे चूमना शुरु कर दिया।
मैं जमकर उसके और वो मेरे होंठों को चूसने लगी, फ़िर वो बेकाबू हो गई, वो गरम हो गई।
मैंने उसको सम्भाला और उसे बिस्तर पर ले गया, उसके कपड़े उतारे और उसको नंगी कर दिया।
आज रैना पहले से ज़्यादा सैक्सी लग रही थी।
उसके मोटे मोटे मोम्मे वाह… उसके चूतड़ गान्ड जैसे कोई मखमली गद्दे हों…
उसकी चूत के तो क्या कहने…
जैसे दूर कहीं किसी ने हीरा छुपाया हो वाह…
तभी रैना ने कहा- मुझको सर्दी लग रही है।
मुझे पहले बड़ा अजीब लगा कि गर्मी में ठंड कैसे लग सकती है पर तभी मुझे याद आय कि पंखा 5 की स्पीड पर चला था।
उसको जब भी सर्दी लगती है तो वो मुझसे अपने कपड़े खोल कर उसके ऊपर रज़ाई का काम करने को कहती है।
मतलब वो मुझे अपने ऊपर लेटने को कहती है।
मैं उसके कहे अनुसार अपने कपड़े उतार कर उसके ऊपर आ गया।
पर अब मुझे थोड़ी सर्दी लग रही थी।
तो मैंने ऊपर से चादर भी ओढ़ ली।
अब मैं फ़िर उसे और वो मुझे चूमने लगी।
मैंने उसको समूच करना शुरू कर दिया।
एक हाथ से मैं उसके बोबे भी दबा रहा था और दूसरे हाथ से मैं उसकी चूत को सहला रहा था।
तभी मुझे एक बात याद आई कि रैना और मैं अकसर फ़ोन पर सैक्स की बात करते थे तो एक बार ऐसे ही मैंने रैना से कहा था कि रैना एक बार हम दोनों अपनी सैक्स करते हुए अपनी हरकते कैमरे में कैद करेंगे।
तो उसने ऐसे ही मज़ाक में बात ली और हाँ कह दिया।
जैसे ही मुझे ये बात याद आई मैंने रैना से कहा- रैना करें शूट अपनी फ़िल्म?
रैना के होश उड़ गये।
पर वो मेरे ज़ोर देने पर राज़ी हो गई।
मैंने उसके पर्स से कैमरा निकाला जो उसको उसके भाई ने गिफ़्ट दिया था और वो उसको मुझे दिखाने के लिये लाई थी।
मैंने उस कैमरे को ऑन किया और उसे शेल्फ़ पर टिका कर कुछ इस तरह रख दिया कि हमारा पूरा बेड और हम दोनों शूट हो सकें।
फ़िर मैंने रैना के बोबे सहलाना शुरु कर दिया और उसके कान काटना भी।
इससे रैना बहुत गर्म हो जाती है।
और जैसा कि मैंने कहा कि रैना एकदम से गर्म हो गई, उसने अपना एक मोम्मा यानि कि दूध मेरे मुँह में डाल दिया और मुझसे कहने लगी- चूसो इसे ज़ोर से… मेरा सारा दूध पी लो।
मैंने भी उसके मोम्मे को ज़ोर से चूसना शुरू कर दिया।
थोड़ी ही देर में रैना सिसकारियाँ भरने लगी।
फ़िर मैंने उसका दूसरा मोमा भी चूसा।
और वो इतनी गर्म हो गई थी कि उसने अपने बोबों पर मेरा मुँह दबा दिया।
फ़िर कुछ देर ऐसा करने के बाद मैंने उसके पेट और नाभि को चूमना शुरू कर दिया, फ़िर नाभि से होते हुए उसकी चूत पर अपना मुँह
लगा दिया।
जैसे ही मैंने अपना मुँह रैना की फ़ुद्दी पर रखा और अपनी ज़ीभ अन्दर बाहर करनी शुरू की तो रैना तो जैसे स्वर्ग की सैर करने
लगी।
उसके मुँह से ‘आआह्ह्ह्ह… स्स्स्स्स स्साआ अह्ह्ह्ह… म्म्म म्म्माआआह्ह… ओह येस… ओह येस… ओह येस… ओह येस बेबी सक इट… ओह येस बेबी सक इट’ जैसी आवाज़ें निकलने लगी।
अभी मुझे ऐसा करते कुछ ही समय हुआ था कि तभी रैना ने मेरा मुँह अपनी चूत पर दबा दिया।
मैंने भी ज़ीभ पूरी रफ़्तार क साथ अन्दर बाहर चलानी शुरू कर दी।
तभी रैना के मुँह से वो निकला जो मैं सुनना चहता था।
उसने कहा- अन्नू अब और सब्र नहीं होता अपना लन्ड मेरी चूत में डाल दो प्लीज़।
बस यह सुनते ही मैंने अपना लन्ड रैना की चूत पर रखा और ज़ोरदार धक्का देकर अपना लन्ड रैना की चूत में पेल दिया।
रैना काफ़ी समय से सैक्स ना करने की वजह से ज़ोर से चीख पड़ी।
मैंने उसके मुँह पर अपना हाथ रख कर उसकी चीख बन्द कर दी।
फ़िर मैंने धीरे धीरे अपना लन्ड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया और रैना ने भी अपने चूतड़ चलाने शुरू कर दिये।
अब रैना के मुख से सिसकारियाँ शुरू हो गई, उसके मुख से आआह्ह्ह… स्स्स स्साआअह्ह…  म्म म्म्माआआह्ह्ह्ह… ओह येस अन्नू फ़क मी… ओह येस अन्नू फ़क मी… ओह येस… ओह येस अन्नू फ़क मी हार्ड… ओह…’ जैसी आवाज़ें निकलने लगी।
इन आवाज़ों से मैं और भी गर्म हो गया और मैंने रैना को और ज़ोर से चोदना शुरू कर दिया।
फ़िर रैना ने अचानक मुझे धक्का दिया और मुझे अपने नीचे पलट कर मेरे ऊपर चढ़ गई।
उसने मेरा लन्ड अपने हाथ में लिया और उसे चूसने लग गई।
फ़िर उसने मेरा लन्ड अपनी चूत पर रखा और उस पर बैठ ग़ई।
मैंने नीचे से धक्का मारा और रैना भी उछलने लग गई।
फ़िर मैंने रैना को भी पलट कर अपने नीचे कर दिया और रैना ने फ़िर से आवाज़ें निकालना शुरू कर दी ‘आआ आह्ह… स्स स्साआअह्ह… म्म म्म्माआआह्ह… ओह येस अन्नू फ़क मी हार्ड… ओह येस् अन्नू फ़क मी हार्ड…’
और तभी रैना ने मुझे कस कर पकड़ लिया।
मैं समझ गया कि वो झड़ गई है, मैंने धक्कों की स्पीड तेज़ कर दी।
फ़िर मैं भी अपने चरम पर पहुँच गया और मैंने अपना लन्ड बाहर निकाल कर अपना सारा माल रैना के मोम्मों के ऊपर फ़ेंक दिया।
फ़िर मैंने जाकर कैमरा बद किया और हांफ़ते हुए रैना के ऊपर ही लेट गया।
कुछ देर बाद मैंने रैना को देखा, पूछ- आज क्या हुआ था? बड़े जोश में थी।
रैना ने कहा- पता नहीं, बट अभी भी करने का मन कर रहा है… तुम्हारे अंदर ताकत बची है?
मैंने रैना से कहा- मेरी एक इच्छा तो तूने बिना बोले ही पूरी कर दी मेरा लन्ड चूस कर, अब दूसरी भी पूरी कर दे।
उसने पूछा- कौन सी?
मैंने कहा- गान्ड मारने की।
पता नहीं क्या हुआ, रैना एकदम से उठ गई और घोड़ी बन गयी।
मेरी खुशी का तो कोई ठिकाना नहीं रहा और मैंने अपना लन्ड सीधे रैना की गान्ड पर लगा दिया और उसकी गान्ड मारना शुरू कर
दिया।
एडिटर: Sunita Prusty
Publisher : Bhauja.com

Related Stories

READ ALSO:   करन का प्यार (Karan Ka Pyar)

Comments