गर्लफ्रेंड की भाभी ने जबरदस्ती चुदवालिया – Girlfriend Ki Bhabhi Ne Jabardasti Chudwaliya

girlfriend ki bhabhi ne chudwaliya - hindi sex story
Submit Your Story to Us!

हैल्लो दोस्तों, ये कहानी इसी जनवरी की है. मेरे फ्लेट के पास वाले फ्लेट में मीनू भाभी रहती है, मेरा उनकी ननद शालू के साथ चक्कर चल रहा था और हम दोनों ने कई बार सेक्स किया था. हमारा चक्कर 2 साल से चल रहा था.

ये बात 30 जनवरी की दोपहर की है, जब मेरे घर में कोई नहीं था तो मैंने शालू को 11 बजे अपने घर बुला लिया कि आज पूरे दिन मस्ती करेंगे. फिर वो मेरे घर पर आई और जैसा मैंने प्लान किया था, में उस पर टूट पड़ा. अब में उसे सीधे ही बेडरूम में ले गया और उसको नंगा कर दिया. हम पहले भी कई बार सेक्स कर चुके थे, तो ये हमारे लिए कोई नई बात नहीं थी. अब उसको 2 बार चोदने के बाद हम बैठे हुए थे, तभी उसके फोन की घंटी बजी और अब उसकी भाभी उसे बुला रही थी, तो वो अपने कपड़े पहन कर अपने घर चली गयी.

फिर 2 बजे मीनू ने मुझे अपने घर पर लंच के लिए बुलाया, तो में वहाँ गया तो शालू वहाँ नहीं थी. फिर मैंने पूछा कि शालू कहाँ है? तो वो बोली कि तुझे उसकी बड़ी याद आती है तो में थोड़ा चुप हो गया. फिर वो मेरे पास आकर बैठ गयी और मेरी आँखो में देखकर बोली कि तुम दोनों सुबह क्या कर रहे थे? तो मैंने धीरे से कहा कि कुछ नहीं ऐसे ही खेल रहे थे.

फिर वो हंसते हुए बोली कि जैसे मुझे नहीं पता कि कौन सा खेल खेल रहे थे? तुम दोनों की इतनी आवाज़ आ रही थी, रूम तो ठीक से बंद कर लेते, में सब जानती हूँ ये जवानी के खेल. अब में थोड़ा सा डर गया था, लेकिन फिर सोचा कि अगर आवाज़ आ रही थी तो उन्होंने उस टाईम क्यों नहीं टोका? और जब हम दोनों अकेले है, तो ये बातें क्यों कर रही है?

फिर मैंने थोड़ी हिम्मत करते हुए चान्स लिया और बोला कि आपको पता था तो उस टाईम क्यों नहीं टोका? तो वो हंसते हुए मेरे और पास आई और बोली कि तुझे क्या लगता है? अब मेरा हौसला बढ़ चुका था और अब में समझ चुका था कि भाभी के क्या इरादे है? अब मीनू मेरे एकदम पास आई और बोली कि शालू तुझे पूरे मज़े नहीं दे सकती है, वो अभी बच्ची है. में तुझे आज बताउंगी कि मज़े कैसे लेते है? फिर मीनू भाभी ने मेरे लंड पर हाथ रख दिया और उसे सहलाने लगी.

अब मेरा लंड भी एकदम खड़ा हो गया था और फिर मीनू ने मेरी पेंट की चैन खोलकर मेरे लंड को बाहर निकाल कर बोली कि तेरा तो काफ़ी बड़ा है, शालू की तो तू फाड़ ही देता होगा. फिर मैंने कहा कि शालू से ही पूछ लो, तो वो हँसकर बोली कि उससे क्या पूछना? मेरी फाड़कर दिखा, तो वो मुझे बेडरूम की बजाए किचन में ले गयी और मुझे किचन की गैस पट्टी पर बैठा दिया और फ्रिज से कुछ निकालने लगी.

फिर वो थोड़ी देर में जेम और बटर लेकर आई, तो मैंने कहा कि ब्रेड खाओगी क्या? तो वो हँसने लगी और थोड़ा जेम और बटर मेरे लंड पर लगाने लगी. फिर मैंने उससे पूछा कि ये क्या कर रही हो? तो बोली कि बस देखते रहो. अब मीनू ने मेरे लंड पर पूरी तरह से जेम और बटर लगा दिया और फिर उसे चाटने लगी. अब वो मेरे लंड को ऐसे चूस रही थी कि मुझे आनंद आने लगा था.

फिर 10 मिनट तक वो ऐसे ही मेरे लंड को चूसती रही और फिर मैंने उसके मुँह में अपने लंड को झाड़ दिया. अब वो पूरा जेम बटर और सफेद पानी पी गयी और फिर सब कुछ साफ़ करने के बाद वो बोली कि मेरा तो लंच हो गया, तू क्या खायेगा? फिर उसने अपना पेटीकोट ऊपर किया और अपनी चूत के दर्शन कराए.

वैसे मीनू दिखने में बहुत सेक्सी नहीं थी और उसका कलर भी थोड़ा गहरा था, तो मैंने उसके बारे में कभी ऐसा नहीं सोचा था. खैर अब मेरे सामने चूत थी तो छोड़ता कैसे? उसने अपनी चूत को एकदम साफ कर रखा था, उसकी चूत पर एक बाल का भी नामो निशान नहीं था, काली चूत में गुलाबी दरार एकदम मस्त लग रही थी.

अब मीनू ने फिर से जेम और बटर लेकर अपनी चूत पर और अंदर लगा लिया और हंसते हुए बोली कि ये रहा तेरा लंच. मैंने पहले कभी चूत नहीं चाटी थी, लेकिन मैंने हिम्मत करके चूत चाटना शुरू कर दिया और अब में जैसे-जैसे चाटने लगा तो वो और मदमस्त होने लगी थी. अब में भी मस्त हो चुका था और मैंने उसके सारे कपड़े फाड़ दिए.

मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए और अब हम दोनों पूरे नंगे थे. फिर 10 मिनट तक चूत चाटने के बाद उसने भी अपना पानी छोड़ दिया. फिर वो बोली कि मज़ा आया या नहीं, तो वो बोली कि पहली बार चूत चाटी है ना, तो मैंने कहा कि हाँ पहली बार है, लेकिन पूरा मज़ा आ गया. अब वो खड़ी हुई और रोटी बनाने लगी. फिर हमने 3 बजे के करीब खाना खाया और इस पूरे टाईम हम दोनों पूरे नंगे ही थे.

फिर 3:30 बजे के करीब वो मुझे अपने बेडरूम में लेकर गयी और बोली कि तैयार हो. फिर मैंने कहा कि हाँ तो वो बोली कि बेड पर लेट जाओ और वो मेरे ऊपर उल्टी लेट गयी, मतलब मेरा लंड उसके मुँह में और उसकी चूत मेरे मुँह में थी, मतलब अब हम 69 पोज़िशन में आ गये थे.

फिर में उसकी चूत में उंगली करने लगा और वो मेरा लंड चूसने लगी, वैसे उसके दो बच्चे थे, लेकिन उसकी चूत फिर भी काफ़ी टाईट थी. अब मैंने मज़े लेते हुए कहा कि शालू की चूत तेरे से टाईट है तो वो हंसते हुए बोली कि अभी पता चलेगा कि ज्यादा मज़े कौन लेगा? उसके बूब्स भी काफ़ी बड़े थे और एकदम ढीले थे. अब में बैठ गया और उसके बूब्स से खेलने लगा और उसकी चूचीयों को चूसने लगा. अब उसकी चूचीयां भी खड़ी हो गयी थी और निपल भी टाईट हो गये थे.

अब में उसकी चूचीयों को चूसता रहा और वो मदमस्त होती रही. फिर थोड़ी देर के बाद वो बोली कि अब बस इस लंड को मेरी चूत में डालकर मेरी प्यास बुझा दो.

फिर मैंने कहा कि कंडोम दो, तो वो कहने लगी कि ऐसे ही चोदो, लेकिन मैंने साफ कह दिया कि बिना कंडोम नो सेक्स, तो फिर वो उठी और अपनी अलमारी से कंडोम निकाला. फिर मैंने कंडोम अपने लंड पर चढ़ाया और अब में एकदम तैयार था. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाला तो वो काफ़ी टाईट थी, मानो जैसे शालू की ही चूत हो. फिर मैंने 5-7 धक्के मारे तो भाभी कराहने लगी. फिर मैंने कहा कि भैया ने कब से इस चूत के दर्शन नहीं किये है?

वो बोली कि 3 महीने से, क्योंकि वो इंडिया के बाहर गये हुए थे. फिर मैंने शरारत करते हुए ज़ोर से उसकी चूचीयां खींची, तो वो एकदम करहा उठी. अब वो एकदम मस्त हो चुकी थी और अब मेरा लंड भी एकदम तन गया था. अब में जैसे जैसे अपने धक्को की स्पीड तेज कर रहा था तो मीनू की कराहने की आवाज़ भी तेज होती जा रही थी. अब उसका चेहरा देखकर ही लगता था कि मानो उसको लंड दर्शन काफ़ी टाईम के बाद हुए है.

अब में पूरे ज़ोर से धक्के मारने लगा और वो कहती जा रही थी और ज़ोर से और ज़ोर से. अब में धक्के मारता रहा और वो कराहती रही. फिर थोड़ी देर के बाद मुझे लगा कि मीनू ने पानी छोड़ दिया है और वो शांत हो चुकी थी, लेकिन में अभी तक झड़ नहीं पा रहा था. अब में नीचे लेट गया और वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड को अपनी चूत में डालकर ज़ोर-ज़ोर से उछलने लगी.

अब वो ऐसे उछल रही थी कि ना जाने उसे क्या मिल गया हो? अब वो उछले जा रही थी और में बस अब झड़ने वाला ही था, लेकिन वो उछले ही जा रही थी. फिर मैंने उससे कहा कि अब थोड़ा रूको, मेरी बैटरी तो चार्ज होने दो. अब हम दोनों झड़ चुके थे और थोड़ा आराम करना ज़रूरी था, लेकिन अब मीनू तो मानो पागल ही हो चुकी थी, वो पता नहीं कितने दिनों के बाद सेक्स कर रही थी.

अब करीब 4:30 बज चुके थे, तो फिर वो बोली कि 5 बजे शालू भी आ जायेगी, तो मैंने कहा कि उसे भी ले लेंगे. तो उसने मुझे धक्का दिया और बोली आज नहीं, अभी तुम बस मेरे हो और मेरे लंड को फिर से चूसने लगी. फिर मैंने कहा कि बस कर थोड़ा ब्रेक दे और कॉफी बनाकर ला, तो फिर उसने कॉफी बनाई और हमने कॉफी पी. अब वो फिर से तैयार खड़ी थी और इस बार वो मुझे बाथरूम में लेकर गयी और उसके यहाँ बाथरूम टब था.

फिर उसने उसमें पानी भरा और फिर से मेरे लंड को चूसने लगी. अब लंड का क्या है? साला फिर से खड़ा हो गया और इस बार मैंने उसे डॉगी स्टाइल में चोदा. अब 5 बज चुके थे और शालू के आने का टाईम भी हो चुका था. फिर मीनू ने मुझसे वादा किया कि जल्द ही वो में और शालू एक साथ एक ही बिस्तर पर होंगे, इस वादे के साथ में अपने फ्लेट में चला गया.

फिर 7 बजे मेरे फ्लेट की घंटी बजी और अब शालू मेरे सामने थी. फिर मैंने सोचा कि साले लंड की तो आज आफ़त है, आराम ही नहीं मिल रहा है, लेकिन अब में एकदम थक चुका था तो मैंने शालू से कहा कि आज रात यहीं सो जा और रात में मस्ती करेंगे.

फिर उसने कहा कि भाभी नहीं मानेगी, तो मैंने कहा कि उनसे कहना कि पड़ाई करनी है. उसे क्या पता था कि आज उसकी भाभी कुछ मना नहीं करेगी?

फिर हम दोनों उसके घर गये और उसकी भाभी से कहा कि आज हम देर रात तक पड़ाई करेंगे. फिर भाभी ने हँसते हुए हाँ कर दी और शालू अपनी बुक्स लेने और चेंज करने अपने रूम में चली गयी तो भाभी मेरे पास आई और मुझे किस किया और बोली कि आज वाकई पहली बार पूरा मज़ा आया है, तो मैंने कहा कि शालू चाहती है कि हम सेक्स करें, लेकिन तुमने तो मुझे पूरा निचोड़ दिया है, तो मीनू बोली कि चिंता मत करो और फिर वो किचन में गयी और मुझे एक गोली दे दी और बोली कि सेक्स के 2 घंटे पहले खा लेना और मज़े देखना.

फिर में शालू को अपने फ्लेट में ले गया और उससे कहा कि आज पूरी नाईट हम दोनों नंगे ही रहेंगे. फिर उस रात हम दोनों नंगे ही रहे और हमें खूब मौज मस्ती की.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*