अपनी धोकेबाज गर्लफ्रेंड की माँ को चोदा – Apni Dhokebaj Girlfriend Ki Maa Ko Choda

Apni Dhokebaj Girlfriend Ki Maa Ko Choda - hindi sex kahani
Apni Dhokebaj Girlfriend Ki Maa Ko Choda - hindi sex story
Submit Your Story to Us!

भाउज में आज आप सबके लिए एक खास गन्दी कहानी लेकर आयी हूँ, मैं आपका sunita भाभी, ये कहानी एक ऐसा लड़का का हे जो उसकी गर्ल फ्रेंड की माँ को छोड़ दिया हे, कैसे और कान्हा वो उनको छोड़ा वो अभी इसी कहानी के dauran हमें बताने जा रहे हैं, उमीद हे उनकी कहानी आपको पसंद आएगी तो सुरु karte हे वो कहानी  “अपनी धोकेबाज गर्लफ्रेंड की माँ को चोदा – Apni Dhokebaj Girlfriend Ki Maa Ko Choda“…

हाय दोस्तों हम लोग फोन सेक्स करते थे मगर कभी हकीकत में नही किया एक दिन मोका मिला जब उसके पेरेंट्स अपने गावं गये 3 दिन के लिये तब उसे मिलने में उसके घर गया और मैने मेरी गर्लफ्रेंड को उसके घर मे चोदा लगातार 3 दिन तक वो वर्जिन थी उस दिन से लेकर लगभग दो साल तक जब भी उसके पेरेंट्स गावं या कही बाहर जाते थे तब वो मुझे अपने घर बुला के चुदवाती थी उसे मेरा लंड काफ़ी पसंद था और शायद आज भी होगा ओर वो उस चुदाई को याद करती होगी मुझे उसकी गांड मारने में बड़ा मज़ा आता था उसके बूब्स छोटे थे मगर गांड चोडी और बड़ी थी हम अलग हुये क्योकी हमारी जाति अलग है एक दिन मैने उससे उसकी माँ के फिगर के बारे में पूछा हम दोनो सेक्स को लेकर खुली बाते करते थे उसने सब बताया जब उसने अपनी माँ की गांड के बारे में बताया तब से मेरा लंड उसकी माँ की गांड मारने को बेताब था.

मैने फिर उस दिन से जब भी उसे चोदता तब उससे उसकी माँ कि सेक्सी चड्डी पहना कर चोदता ताकि मुझे दोनो को चोदने का मज़ा मिले हमने काफ़ी मज़े किये साथ ही साथ हर रात को हम दोनो फोन पर सेक्स करते थे तब हम काफ़ी सेक्सी कहानियां चुदाई की अलग अलग स्टाइल और बहुत ही डीप बाते करते थे हम फोन पर ही कभी कभी रात रात भर रोल प्ले करते थे और चुदाई का मज़ा लेते थे में आज भी उसकी चूत की ख़ुशबू और उसकी गांड की गर्मी को मिस करता हूँ हम अलग हुये तब गुस्सा तो बहुत आया में उसे ढूढने उसके घर के नीचे रोज जाता रहा उसे देखने के लिए मगर पता चला की उसने उसकी जाति के लड़के से शादी करने का फ़ैसला किया है.

फिर एक दिन जब में हमेशा की तरह उसकी बिल्डिंग के नीचे गया तो वहा मेरी मुलाकात एक आंटी से हुई जो उसी के सामने वाली बिल्डिंग मे रहती है उसने इशारे से मुझे अपने घर बुलाया में भी डर डर के चल गया सोचा की उसे सब पता चल़ गया है की में यहा किसके घर की तरफ़ देखता रहता हूँ में फिर भी चला गया सोचा जब इतना कुछ हो गया है तो जो हो सो हो मुझे मेरी गर्लफ्रेंड का काफ़ी गुस्सा भी था वो 40 साल की सेक्सी आंटी है अभी काफ़ी सेक्सी है.

उसके बेटे की शादी हो चुकी है और वो अपनी पत्नी के साथ अलग रहता है उसके पति बिजनस करते है और हमेशा बाहर होते है जब में उसके घर गया तो उसके बेटे की फोटो देखी तब पता चला की वो मेरा एक पुराना फ्रेंड है जिससे में काफ़ी साल से नही मिला था मगर मैने उसे नही बताया उसने मुझसे पूछा की यहा क्यों आते हो तो मैने उसे सब अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में बताया उसने कहा जो गया उसे भूल जाओ और आगे की सोचो मेरी उससे अच्छी पहचान हो गई मेरा डर दूर हुआ उसने कहा की वो किसी से नही कहेगी और ना मेरी गर्लफ्रेंड की लाईफ खराब करेगी ना ही बदनामी मैने उसे अपना नंबर दिया वो घर पर ज्यादातर अकेली होती है तो मुझे फोन करती हमारी बाते बडने लगी और में उसे मिलने जाने लगा एक दिन मैने उसे कपड़े बदलते देखा उसने मेरी नज़र पकड़ ली और उसे भी एक मर्द की ज़रूरत थी.

मैने उसे बताया की में उसके बेटे को जानता हूँ ये सुनके वो खुश हुई उसने कहा यह तो अच्छी बात है तब तो तुम मुझसे मिलने जब चाहो आ सकते हो तो उस दिन से में जब भी उससे मिलने उसके घर जाता तो वो जानबूझ कर मेरे सामने अपने पल्लू को गिराती कभी नाइटी को घुटने तक उठाकर बैठती तो कभी नहाने चली जाती और अपनी सेक्सी पेंटी और ब्रा जानबूझ कर भूल जाती और मेरे साथ चिपक के बैठती कुछ दिनो बाद उसने मेरे साथ रोमांटिक बाते शुरू की वो अपने अकेलेपन की बाते बताती मुझसे मेरी सेक्स लाइफ के बारे में पूछती अपनी बाते करती और आख़िर एक शनिवार की शाम को में ऑफीस से निकल कर उससे मिलने गया उसने कहा मेरे लिये सर्प्राइज़ है जब में वहा गया तो उसने बताया की मेरे पति अब एक महीने के लिये पूना मे है और कुछ बातो के बाद उसने मुझे एक गिफ्ट दी और अपनी नयी साड़ी पहनने चली गयी.

उसने जानबुझ कर बेडरूम का दरवाजा खुला रखा और नयी सेक्सी पेंटी और ब्रा और साड़ी पहनने लगी में सब हॉल मे बैठकर देख रहा था ये उसे पता था फिर वो बाहर आई और पूछा कैसी लग रही हूँ में मैने कहा बहुत सुन्दर तो उसने कहा फिर आज की रात मेरे साथ गुजारो हॉल की लाइट बंद की और मुझे मेरा हाथ पकड़ के बेडरूम मे ले गयी और मुझे बाहो मे लिया और कहा की मुझे पता है की तुम्हे में अच्छी लगती हूँ मुझे भी तुम अच्छे लगते हो में भी उसकी गांड का दीवान था उसके बूब्स भी बड़े मजेदार थे मेरी नज़र तो थी ही और मैने भी उसे अपनी बाहो मे भरके चूमना शुरू किया उसे नंगा करके.

उसकी गांड चूत और बूब्स की अच्छे से चूसाई की उसने कहा आज तक मेरे पति ने भी ऐसा मजा नही दिया उसने मुझे नंगा किया मेरा लंड टाइट तो था ही उसे देखकर वो पागल हुई उसने कहा तुम्हारा लंड तो मेरी सोच से भी बड़ा है में हमेशा से बड़ा लंड चाहती थी शायद इसलिये तुम मिले यह तो मेरे पति के लंड से भी डबल है काफ़ी मोटा लम्बा है और वो मेरे लंड को चूसने लगी मैने उसे सुबह के 4 बजे तक चोदा और उसकी गांड भी मारी उसे पूरा सॅटिस्फाइड किया और वो मेरी बाहो मे सो गई उस दिन के बाद वो मुझसे काफ़ी खुश और खुल के रहने लगी वो मुझसे अपने पति की तरह बिहेव करती है में उसे अब हर शनिवार को जाकर चोदता हूँ कभी कभी बुधवार को भी एक दिन हमेशा की तरह में उससे मिलने गया हम हॉल मे बैठे थे की डोर बेल बजी में बेडरूम मे चला गया बाहर हॉल मे कुछ औरते आई थी उसमे से एक मेरी गर्लफ्रेंड की माँ थी काफ़ी देर उन्होने बाते की और वो चली गयी.

उस रात मैने उसे चोदने के बाद अपनी बाहो मे भर के बाते की तब उससे अपनी गर्लफ्रेंड की माँ के बारे में पूछा उसने कहा हम जानते है मंदिर के दोस्त है और साथ मे बिजनस भी करते है उसने कहा लेकिन मैने तुम्हारे बारे में या उसकी लड़की के बारे में उससे कुछ नही कहा है मगर बात क्या है तो मैने उसे उसकी सारी फ्रेंड्स की सेक्सी बातो के बारे मे पूछा उसने खुल के बताया की वो सारी औरते जब मिलती है तब क्या क्या बाते करती है उसने मेरी गर्लफ्रेंड की माँ की भी कुछ बाते थी ये सुनके मुझे पुराने दिन याद आये मेरा लंड फिर से खड़ा हुआ और पूरे जोश से मेंने उसे चोदा तब उसने पूछा क्या बात है इतने उतावले क्यों हो रहे हो पहले तो कभी ऐसा नही किया तब मैने उसे बताया की में भी मेरी गर्लफ्रेंड की माँ को चोदना चाहता हूँ और सब बाते बताई वो सुन के चोक गयी मगर जब वो खुद मेरे साथ यह सब कर रही है तो उसके क्या फर्क पड रहा था लेकिन वो जलन फील करने लगी.

उस रात वो अलग सोई मैने फिर दो दिन तक उसे कॉल नही किया तो वो रोने लगी और मुझे बुलाया मैने उसे समझाया की में फिर उसने कहा की तुम्हारी विश में पूरी करूँगी मगर तुम मुझे नही छोड़ के जाओगे मैने प्रॉमिस किया उस दिन के बाद वो मेरी गर्लफ्रेंड की माँ को अपने घर पर बाते करने बुलाने लगी और 15 दिन के बाद उसने कहा की कल तुम ऑफीस से छुट्टी ले लो और सुबह मेरे घर आना और इस बार कन्डोम के 2 पैकेट लाना मैने पूछा तो उसने कहा मैने तुम्हे नही बताया की तुम्हारी गर्लफ्रेंड की माँ 15 दिन तक मेरे घर दोपहर में बाते करने आती थी.

मैने उससे सेक्स की बाते कि फिर उसे हम दोनो के बारे मे बताया। उसने कहा की तुम लकी हो अगर तुम भी चाहो तो मेरे बॉयफ्रेंड के साथ कर सकती हो तुम्हे भी तो चाहिये ना में किसी को नही बताउंगी हम दोनो का राज हम तीनो मे ही रहेगा मज़ा भी मिलेगा और किसी को पता भी नही चलेगा वैसे में अपने बॉयफ्रेंड के साथ हम लेडीस की जो जो बाते होती है सब बताती हूँ और मेरे बॉयफ्रेंड ने भी कुछ दिन पहले तुम्हे मेरे घर पर देखा था तो तुम्हरी गांड की तारीफ करने लगा वो भी तुम्हे चोदना चाहता है ये सारी बाते मैने उससे की अब वो भी तैयार है कल सुबह वो 11 बजे आयेगी बिजनस के बहाने से तुम टाइम से आ जाना यह सुनके में उस रात सो नही पाया और दूसरे दिन में उसके घर गया वो मेरा वेट कर रही थी में घर मे गया तो बेडरूम मे मेरी गर्लफ्रेंड की माँ बैठी थी उसे देख कर मेरे मन मे रेस्पेक्ट पैदा हुआ मगर गर्लफ्रेंड के धोखे ने उसे गुस्से मे बदल दिया.

हम लोग फिर फ्रेश हुये और बाते करने लगे मैने कहा आप लोगो की हर बाते मुझे पता है तो मेरी गर्लफ्रेंड की माँ शरमा गयी और अपनी नज़रो को झुका लिया मेरी गर्लफ्रेंड आंटी मेरी गोद मे बैठी थी मेरी गर्लफ्रेंड की माँ सामने कुर्सी पर वो काफ़ी शरमा रही थी तब आंटी ने मेरे कान मे कहा की मुझे चूमना दबाना शुरू करो वो हमे देख रही है फिर वो भी तैयार हो जायेगी और मैने वही किया मेरी एक्स मदर इन लॉ ये सब चोरी चोरी शरमा के देख रही थी मैने आंटी को नंगा किया और उसके बूब्स को चूसने लगा और एक हाथ से उसकी गांड को सहलाने लगा तो दूसरे हाथ से उसकी चूत को यह सब वो कुर्सी पर बेठ कर नज़र को चुरा चुरा के देख रही थी मुझे पता था की वो आज ज़रूर चुदवायेगी अगर बुरा लगता तो चली जाती मगर वो बैठी ही थी.

girl friend ki maa ki boobs dabake choda

फिर मैने अपना लंड अपनी चड्डी से निकाला और आंटी उसे सहलाने लगी मेरी एक्स सास ने मेरे लंड को देखा और देखती ही रह गयी वो मेरे लंड की साइज खुश होकर शर्म छोड़ के देखने लगी तभी आंटी जी ने उससे कहा अब क्या सोच रही हो आओ यहा पर वो शरमा गयी फिर वो उसके हाथ को पकड़ कर मेरे पास लाई वो भी अपनी नज़र को नीचे करके मेरे पास ख़ड़ी हो गयी मुझे थोड़ा अजीब लगा मगर मेरे हवस को आंटी ने और बडाया वो मेरा लंड चूसने लगी तो मैने मेरी एक्स सास का एक हाथ पकड़ा वो डर के मारे अपना हाथ छुड़ाने लगी मैने फिर उसकी साड़ी के उपर से उसकी गांड के उपर अपना हाथ घुमाया तब उसने मुझे आँखों मे आँखे डाल के देखा उनमे मुझे बहुत प्यास दिखी मुझे एक बात पता थी की वो पेंटी नही पहनती थी जब वो घर पर होती है वो सिर्फ पीरियड मे ही पहनती है.

फिर मैने उसे अपने पास खीचा और उसकी साड़ी को उपर करके सीधा उसकी चूत पर अपना हाथ ले गया उसकी चूत के बाल मैने जैसे ही छुये वो उठ के खड़ी हो गयी तब मैने भी आंटी को अपने लंड से हटाया और सीधा वहां गया जहाँ वो थी और उसको पीछे से पकड़ा और दोनो बूब्स दबा दिये और मेरे लंड को उसकी साड़ी के उपर से ही उसकी गांड मे दबा दिया फिर उसे बेड पर लेटाया और में उस पर चड गया वो अपना मुँह यहा वहा कर रही थी मगर मैने फिर भी उसके मुँह मे मुँह डालकर उसे चूमा और बूब्स दबाये वो भी शांत हो गयी तब तक आंटी ने उसकी साड़ी निकाल के उसे नंगा कर दिया था उसे नंगा देखकर मेरी यादे ताज़ा हो गयी जो में सोचता था उससे कही गुना सेक्सी थी वो मैने काफ़ी देर तक उसे चूमा उसकी गांड को और चूत को चाटा उसके बूब्स दबाये और क्या कहूँ उसके मुँह मे अपना लंड जैसे ही दिया उसने मेरे लंड को ऐसे चूसा की सारा पानी पी गयी.

ये देख कर आंटी भी पागल सी हो गयी मैने उसे 3 बजे तक चोदा 4 बार मे 2 बार उसकी गांड भी मारी आंटी ने मुझे उसे अकेले चोदने दिया और वो ये सब नंगी हो कर देख रही थी मैने कहा तुम भी आ जाओ तो उसने कहा में तुमसे रात को करूँगी अभी तुम अपनी इच्छा पूरी कर लो फिर वो नहाने गयी तब आंटी से मैने थैंक्स कहा वो अपने घर चली गयी और फिर रात को मैने आंटी की भी चुदाई की एक दिन मेरी एक्स सास मुझे स्टेशन पर मिली मैने उससे कहा की जब तुम्हे मन करे तो मिलना हम कही होटल मे जाकर करेंगे मगर तुम आंटी को मत बताना की हम मिलते है और मैने उसे अपना मोबाइल नम्बर दिया जो मेरी एक्स गर्लफ्रेंड को भी नही पता था.

जब वो घर पर होती है तो में उसे नही कॉल नहीं करता ताकि अपनी माँ को बात करते सुन कर मेरी गर्लफ्रेंड को शक़ ना हो जाये में अब मेरी एक्स सास को जब मोका मिलता तब उसे बाहर ले जाकर चोदता हूँ और आंटी को उसके घर जाकर चोदता हूँ आज तक मेरी एक्स सास को पता नही की में कोंन हूँ उसे मैने अपना नाम कुछ अलग बताया है जो में आपको भी नही बता सकता और वो सिर्फ़ राज़ है में और मेरी मेच्यूर गर्लफ्रेंड आंटी को पता है की में कोंन हूँ मेरा नाम क्या है और अगर मेरे गर्लफ्रेंड ने कभी ये कहानी पड़ी तो उसे भी पता चल जायेगा की में ही हूँ जिसे उसने अपनी माँ को चोदने के और रिलिजन के लिये धोखा किया और अब उसकी माँ मेरी नयी गर्लफ्रेंड है। तो दोस्तों ये थी मेरी स्टोरी। में आपके रेस्पोंस का इन्तजार करूँगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*