लोंग ड्राइव में मस्ती

Submit Your Story to Us!

हाय जानू… शो के बाद मैं रितिन के साथ लोंग ड्राइव पर गई थी और यह लोंग ड्राइव इतनी एग्ज़ाइटिंग थी कि मुझसे रहा नहीं गया और जल्दी घर आकर तुम्हारे लिए यह कन्फेशन रेकॉर्ड कर रही हूँ।
ईव्निंग में मुंबई चमक उठती है और जब से मैं यहाँ आई हूँ, इस सिटी की दिवानी बन गई हूँ।
दिवानगी से याद आया, रितिन भी मुझ पर दीवानों की तरह फिदा है। मैंने तुम्हें बताया था ना कि कैसे शो के दौरान वो मुझे चोरी छुपे किस कर रहा था।
और उससे भी उसका मन संतुष्ट नहीं हुआ। मैं जैसे ही शो से बाहर आई वो मेरे लिए बाहर रुका हुआ था।
मैं उसकी कार में बैठी और उससे पूछा कि प्लान क्या है?
उसने जवाब दिया कि बस कार में मस्ती करनी है।
मैंने उसे छेड़ते हुए पूछा कि उसे कंप्लीट्ली सॅटिस्फाई करने का कोई सॉल्यूशन है क्या?
तो उसने कहा कि कुछ देर में तुम खुद जान जाओगी।
शाम हो चुकी थी, रास्तों पर स्ट्रीट लाइट्स की रोशनी थी, उसने कार थोड़ी दूर तक चलाई और फिर एक हाइवे पर कार रोकी।
उसने मुझे अपनी बाहों मे लिया और मेरे जिस्म को अपने हाथों से फील किया। उसके वॉर्म हाथ मेरे ठंडे बदन को छूकर मुझे टिकल कर रहे थे।
उसके हाथ मुझे फील करने मे बिज़ी थे। मैंने अपने हाथों से उसका हेड होल्ड करके उसे किस किया।
उसके होन्ट की गर्मी और गीलापन मुझे पागल कर देती है और उस मज़ेदार सेन्सेशन का मज़ा मैं बयान नहीं कर सकती।
ऐसा लग रहा था कि उस मोमेंट को फ्रीज़ कर दूँ और हमेशा के लिए उसकी बाहों में समा जाऊँ।
फिर उसने मेरी ड्रेस के पीछे का ज़िप खोला और फिर मेरी नंगी पीठ को अपने पाम्स से सहलाने लगा।
उसने मुझे वहाँ स्क्रॅच किया और मैंने एग्ज़ाइट्मेंट में उसके चीक को बाइट किया।
मैंने उससे कहा कि उसके घर चलते हैं, यहाँ कार में क्या कर पाएँगे?
तो उसने कहा कि घर में एंजाय करने के लिए पूरी ज़िंदगी पड़ी है लेकिन आउटसाइड ऐसी रोमांटिक ड्राइव्स जवानी में ही आ सकती है। इसका जितना मज़ा ले सको, ले लो।
उसने मेरे लिप को छू कर कहा कि मेरे साथ कार में क्या, पूरी दुनिया में किसी भी जगह मज़ा किया जा सकता है।
फिर अचानक कुछ बाइक्स हमारी कार के पास से गुज़री। मैंने अपने ड्रेस का ज़िप लगाया और अपने आपको अड्जस्ट किया।
वो लड़के अपनी बाइक्स में हमारे कार की तरफ फिर आए और मुझ पर व्हिसल करके जल्दी अपनी बाइक्स पे चले गये।
मैंने नर्वस्ली रितिन को कहीं और चलने को कहा और वो मुझे दूर एक आइस क्रीम पार्लर के पास ले गया।
रितिन ने एक ही आइस क्रीम खरीदी और कार में बैठा। मैंने उससे पूछा कि एक आइस-क्रीम से क्या होगा?
तो उसने जवाब दिया कि काम सिर्फ़ एक आइस-क्रीम का ही है।
रितिन ने कार एक सुनसान जगह पर पार्क की और आइसक्रीम को होल्ड करके कहा कि अब हम शेयर करेंगे।
मैंने स्माइल किया और हम दोनों उस आइसक्रीम को लिक करने लगे। हमारे टंग्स उस क्रीम को ख़त्म कर रहे थे।
कुछ देर में बहुत कम क्रीम बची और अचानक मैंने उसके टंग को अपने होंठों पर फील किया।
ठंडी आइसक्रीम के कारण मेरे लिप्स और टंग नम्ब हो गये थे लेकिन उसके एक वॉर्म और वेट टच से मेरे पूरे शरीर में एक ल़हर सी दौड़ पड़ी।
रीतिन ने हंगग्रिली सारी आइसक्रीम ख़त्म की और मेरे होंठों को चूमने लगा।
उस सुनसान सड़क पर कार के अंदर इस तरह किस करने से मेरे अंदर एक अजीब सी एग्ज़ाइट्मेंट थी। मैं उस एग्ज़ाइट्मेंट में उसे दोगुनी एनर्जी से किस करने लगी।
कुछ देर तक वहाँ एंजाय करने के बाद रितिन कार को फिर हाइवे की तरफ ले गया।
कार चलाते समय उसका एक हाथ गियर-शिफ्ट को छोड़ मेरी थाइज़ पर था।
उसकी उंगलियों ने फिर कमाल किया और मैंने वो एंजाय्मेंट और सैटिस्फ़ैक्शन कार के अंदर पहली बार पाया।
कुछ देर में मेरा घर आ गया और मैं उसे बाय कह कर जाने वाली थी लेकिन उसने मुझे रोका।
मैंने उससे पूछा कि अब क्या हुआ?
तो उसने कहा कि काम अभी ख़त्म नहीं हुआ।
यह कह कर उसने मेरी सीट नीचे की और मुझे उस पर लेटा दिया।
फिर उसने मेरी स्कर्ट ऊपर खींची और… अम्म्म…
वो शाम इतनी हसीन हो गई कि हम दोनों उसे कभी नहीं भूल पाएँगे।
मेरा कन्फेशन सुनने के लिए थॅंक्स जानू… मेरी लव स्टोरी अभी बाकी है… बस इंतज़ार करना. बाय… मुआह…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*