मैं हूँ गाण्ड मराने का शौकीन

Submit Your Story to Us!

दोस्तो, मैं एक व्यापारी हूँ, मेरी उम्र अब लगभग 44 साल, करीब 5.6 फुट की हाइट.. 78 किलो वजन.. फेयर और गुड लुक्स.. मूंछें.. थोड़ा स्थूलकाय हूँ और बहुत हॉट हूँ।
मैं अपनी रियल स्टोरी आप सबके लिए लिखना चाहता हूँ। मेरी सारी घटनाएं सच हैं.. आप सभी के एंजाय्मेंट के लिए सिर्फ़ थोड़ा मसाला और नाम बदलाव आदि किए हैं।

बात 6 साल पहले की है, मुझे अपने बिजनेस के सिलसिले में हमेशा यात्रा करनी पड़ती है, मैं नियमित रूप से पुणे जाता रहता हूँ।

मैं अधिकतर बॉटम का रोल करता हूँ.. मुझे एकदम जवान लड़के बहुत पसंद हैं। जनरली मैं 18-23 साल तक के लड़के तलाश करता हूँ.. जो पूरे टॉप क्लास हों.. और मेरे साथ एंजाय कर सकें।

एक बार हमेशा की तरह मैं काम से पुणे गया और वहाँ पर एक होटल में रूम लिया।
जब वेटर मेरा सामान रखने आया.. तो मैं उसे देखता ही रह गया, उसकी उम्र करीबन 18 साल होगी, उसकी अभी मूछों के बाल आने लगे थे और वो एकदम दूध सा गोरा था.. साथ ही एकदम चिकना लौंडा था।
वो मासूम लग रहा था।
मैंने उसे टिप दी.. तो वो खुश हो गया और मुझे बोल के गया- सर कोई भी काम हो.. मुझे बुला लेना..

मैंने उसे 2-3 छोटे-छोटे काम से बुलाया और हर बार टिप दी।
अब वो मुझ से बहुत खुश हो गया था।

शाम को जब मैं काम से वापस लौटा.. तो वो लड़का मेरे पीछे-पीछे कमरे में आ गया और पूछा- सर कुछ चाहिए क्या?
मैंने उसे पैसे दिए और व्हिस्की का क्वॉर्टर लाने को कहा।

वो गया और क्वॉर्टर लेकर आया.. तब तक मैंने अपने कपड़े उतार दिए थे और एक तौलिया अपनी कमर में लपेट लिया था। मैंने अपना लैपटॉप खोल कर बिस्तर पर रख लिया। टीवी पर मैंने एक अच्छी हिन्दी मूवी लगा ली।

अब वो लड़का व्हिस्की और स्नेक्स लेकर आया और खड़ा होकर टीवी देखने लगा। मैंने उससे पूछा- टीवी का शौक है क्या?
तो उसने कहा- पिक्चर का बहुत शौक है और गाँव में पिक्चर देखने नहीं मिलती है।
मैंने उससे पूछा- तेरी ड्यूटी कब तक है?
तो वो बोला- अब ड्यूटी ख़तम हो गई है और मैं फ्री हूँ।
मैंने उससे कहा- तो इधर बैठ जा.. और आराम से टीवी देख..

वो झिझकते हुए बिस्तर के किनारे पर बैठ गया।
मैंने अपना ड्रिंक बनाया और ड्रिंक करने लगा।
वो बात करने में ज़्यादा इंट्रेस्टेड नहीं था.. क्योंकि उसे पिक्चर में बहुत मज़ा आ रहा था। मैंने 2 ड्रिंक्स ख़त्म किए और फिर उससे पूछा- तू पिएगा क्या?
तो वो शरमाने लगा.. मैं समझ गया कि उसकी इच्छा है।
मैंने उसे पैसे दिए और एक और क्वॉर्टर लाने कहा।

वो खुशी-खुशी गया और 5 मिनट में क्वॉर्टर ले के आ गया।
अब मैंने उसे भी ड्रिंक बना के दिया.. वो थोड़ा हिचकिचाने के बाद उसने गिलास ले लिया और जल्दी-जल्दी पी गया।
दो ड्रिंक पीते ही उसे नशा होने लगा और वो आराम से बैठ गया, उसने बिस्तर की पुश्त पर अपना बदन टिका लिया और पैर लंबे कर लिए।
अब वो मस्त होकर पिक्चर देखने लगा। मैंने सोचा कि ट्राई करने का अब सही समय है। तो मैं तौलिया पहन कर ही उल्टा लेट गया और लैपटॉप पर ब्लू-फिल्म लगा ली।

जैसे ही ‘आ.. ऊ..’ की आवाज़ आई.. उसने झटके से मेरी तरफ देखा और लैपटॉप में देखा तो उसकी आँखें बड़ी हो गईं।
मैंने पूछा- देखना है क्या?
तो वो ‘हाँ’ बोला।
मैंने उससे पूछा- पहले कभी ब्लू फिल्म देखी है?
तो वो बोला- हाँ.. गाँव में वीडियो पर देखी है।

अब वो मेरे पास आकर देखने लगा। मैं समझ गया कि अब ये अच्छे से पट जाएगा।
थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि उसका लंड पैन्ट में खड़ा हो चुका था और तंबू दिखने लगा था, अब वो अपने हाथ से पैन्ट पर लंड को मसल रहा था।
मैंने पूछा- खड़ा हो गया है क्या?
तो वो शर्मा गया और उसने अपना हाथ हटा लिया।

मैंने कहा- अबे शर्मा मत.. और कमरे की लाइट्स बंद कर दे।
उसने जल्दी से लाइट बंद कर दी और बिस्तर पर बैठ कर देखने लगा। अब वो फिर से पैन्ट के ऊपर से लंड मसलने लगा। मैंने एकदम से उसका लंड पकड़ लिया.. तो वो थोड़ा चौंका.. लेकिन फिर उसने स्माइल किया।

मैं समझ गया कि अब मज़ा आएगा। मैंने थोड़ा लंड मसलने के बाद उसके पैन्ट की ज़िप खोल दी और उसका तना हुआ मस्त लंड बाहर निकाला।

वो थोड़ा शरमाया.. उसका लंड करीबन 7.3 इंच का था और मीडियम मोटा था। एकदम हार्ड और स्ट्रॉन्ग लंड था। मुझे तो उसका कमसिन और तगड़ा लंड देख कर मज़ा आ गया।
मैं उसका लंड हिलाने लगा, उसे अब बहुत मज़ा आ रहा था, वो मेरे एकदम करीब आकर बैठ गया था।

मैंने उससे कहा- मेरी कमर में बहुत दर्द है.. थोड़ा दबा दे प्लीज़।
वो थोड़ा अपसेट हो गया.. क्योंकि उसे लगा मैं अब ब्लू फिल्म नहीं दिखाऊँगा।
मैंने कहा- एक काम कर मेरी ऊपर बैठ जा और आराम से फिल्म देख।

वो बड़ा खुश हुआ और जल्दी से मेरे ऊपर बैठ गया।
वो मेरी गाण्ड के ऊपर बैठा था और उसका लंड अब पैन्ट से बाहर था।
मैं अपना हाथ पीछे ले जाकर उसका लंड सहला रहा था, मैंने उसे धीरे से अपने ऊपर लेटने कहा और वो लेट गया।
अब उसे ब्लू फिल्म देखने में बहुत मज़ा आ रहा था। वो धीरे-धीरे मेरे चूतड़ों पर अपने लंड से धक्के दे रहा था।

मैंने उसे थोड़ी कमर ऊपर करने कहा और जैसे ही उसने कमर ऊपर की। मैंने मेरा तौलिया निकाल दिया। अब मैं अन्दर पूरा नंगा था। जैसे ही वो वापस लेटा.. उसे समझ में आ गया कि मैं नंगा हूँ। तो उसने अच्छे से मुझे पकड़ लिया और अब अपना लंड मेरे चूतड़ों पर अच्छे रगड़ने लगा और धक्के देने लगा। मैं समझ गया कि ये मुझे चोदना चाहता है।

अब मैंने उसका लंड पकड़ा और अपनी गाण्ड के छेद पर लगा दिया। उसका लंड प्री-कम से एकदम गीला था। जैसे ही मैंने अपनी गाण्ड के छेद पर उसका लंड टिकाया.. उसने एक धक्का मारा और उसका सुपारा मेरी गाण्ड में उतर गया। मुझे एक बार दर्द सा हुआ और मैंने गाण्ड हिला कर एड्जस्ट किया।

अब उसे बहुत मज़ा आया और उसने कस के एक और धक्का मार दिया। अब उसका आधा लण्ड मेरी कोरी गाण्ड में उतर गया और मुझे बहुत दर्द हुआ। मैं एकदम से बोला- अयाया.. अबे रुक.. रुक.. दु:ख रहा है।

तो वो रुक गया और धीरे-धीरे मेरी गाण्ड मारने लगा। मुझे अभी भी हर धक्के पर दर्द हो रहा था.. लेकिन साथ में थ्रिल और मज़ा दोनों मिल रहा था।

वो पहले ही बहुत गरम हो चुका था और अब जल्दी-जल्दी धक्के लगाने लगा। मेरी गाण्ड में उसका आधा ही लंड घुसा था और उसका पानी निकल गया। जैसे ही पानी निकलने को आया.. उसकी स्पीड बढ़ गई और मैं समझ गया.. इसलिए मैंने उसका लंड बाहर को कर दिया और पानी अन्दर नहीं गिरने दिया। उसका पूरा पानी मेरे चूतड़ों पर निकल गया और उसने मुझे कस के पकड़ लिया और मेरे ऊपर लेटा रहा।

उसे बहुत ही मज़ा आया था।
फिर थोड़ी देर बाद वो मेरे ऊपर से उठा और बाथरूम में जाकर साफ़ करके आया। मैं भी धोकर के आया। अब मैंने उससे पूछा- कभी पहले सेक्स किया है क्या?

तो वो बोला- हाँ गाँव में 3 बार एक औरत को चोदा है और 2 लड़कों को भी चोदा है।
मैंने उससे पूछा- अभी कैसा लगा?
तो वो बोला- बहुत मज़ा आया..
फिर मैंने उससे पूछा- और करोगे क्या?
तो वो बोला- सर आप रात में रूम खुला रखना.. देर रात में आऊँगा।
मैंने रूम को लॉक नहीं किया और सो गया.. पर वो रात में नहीं आया।

अगले दिन मुझे काम से जल्दी जाना था.. सो मैं तैयार हुआ और निकल गया। बाहर ही मुझे ऑफिस से फोन आया कि अर्जेंट काम है तो मैं होटल वापस आया और अर्जेंट्ली निकलने लगा।
वो लड़का मेरे पास आया और चिपकने लगा तो मैंने उससे कहा- अभी नहीं.. अगली बार।
और मैं उसे अच्छी सी टिप देके निकल गया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*