मेरी सहेली निशा (Meri Saheli Nisa) – hindi sex story

meri saheli nisa ki sex story
Submit Your Story to Us!

bhauja, hindi sex stories, antarvasna, kamukta, xossip, kamasutra kahaniyan

Hi,मे रखि बोल रहि हू पहचना,आज मे आपको मेरे सहेलि नीशा कि सतोरी बता रहि हू मेरि जुबनि ।

मेरा नम नीशा है मेरि उमर 27 है और फ़िगेर 37स-26-36 है,मेरि शदिएक स/व एनग्ग से हुई 2 सल पहले मेरे पति मुज़े बहुत खुश रखते है एतना कि वो 1।5 सल से अमरिका मे है और मैं एधर मुमबैमे ।

मेरा मैका नसिक है मे उधर हि पलि बदि जब उमर मे 10 सल कि थि तब हमरा बजोवला मेरे हथ से अपना हिलके लेता था,उस वकत मुज़े पता नहि था कि मे कया कर रहि हू।तब मुज़े लगतथा कि ये एक खेल है,लेकिन जैसे जैसे मे बदति गै वैसे हि मेरे जिवन मे हरबर एक अलग आदमि अया आदमि कया सेक्स परतेनेर आये।मेरि उमर 19+ थि और मे सेक्स के बरेमे कुच जदा नहि जनति थि तभि मेरे जिवन मे पहला आदमि आया मेरा भै मेरे भै कि उमरतब(27+) सल होगि ।।।।।।।।।।।।।

मेरि 14सतद कि एक्सम खतम हुइथि और मे घर आ गै मा कम मे वयसत थि और पपा कम पे गये थे भैया तव देखा रहे थे। मेने मा को बोला मा मुज़े आब घूमने जने का है कयो कि एक्सम कि वजहसे मे 1महिना किधरभि नहि गै।मा बोलि एक कम करो तुम अपने भैया के सथ उस समने वले तलब जओ।मे उचल पदि मेने भैयको सैकल निकलने को कहा और मे दोदकर तलब मे नहने के लिये कपदे लिये और भैयके सथ सैकल पे बैथ गै।तलब हमरे घर से करिबन 1।30 के रसते पे था लेकिन भैया ने शौरतकुत निकला जिससे हम आधे घनते मे हि पहचने वले थे।जते वकत रसता पथरिला था मेने भैयको और सैकल को जम से पकदा था एक बर हमरि सैकल एक बदे गदे मे गै तब भैयने जत से मुसे सिने पर पकदा हम मे दर गै लेकिन भैयने अछि तरह से सैकल निकलि।जा रहे थे तब मुज़े एहसस हुआ कि भैयने अभितक अपना हथ मेरे सिनेसे निकला नहि है और वो अपने हतोसे मेरे बूबस दबा रहा है। उस वकत मेरे बूबस कि सिज़े 31 थि ।उस वकत मेने मेरे भैया को नहि जैसे किसि और आदमि को भैया मे महसूस किया।मेने भैया को अपना आथ निकलने को कहा हम आखिरमे तलब पर पहुच गये,हमने पहले बहोत खेल खेले भैयने मुज़े उधर के अलग अलग नजरे दिखये बद मे हमने तलब मे जने का फ़ैसला किया ।

दोफर का वकत था 1बजे थे एसलिये पहले हमने कुछ खया और तलब मे उतरने केलिये चले ,तभि मुज़े यद आया कि मे अपना सविमिनग सुत लना हि भूल गै और मे अपने आप पे घुसा होकर बैथ गै भैयने अपनि शिरत-पनत निकलकर निकर पर तलब मे उत्रा।और मुज़े बुलने लगा।मेने सब बतया तब भैया बोले कि देख तुमने तोवेल तो लया है ना तो एक कम कर उनदर बरा और निकर पहनि है ना?

मे बोलि हा भैया ।तो भैया बोले तो कया चल उसपर सविमीनग कर।मे बोलि नहि भैया मुज़े शरम आति है,भैया बोले कुच नहि चल जलदि मौसम बदा सुहना है जलदि कर मेने सोचा एक तो मे पहल बर किसि गैर मरद के समने आधि ननगि होनेवलि हू कैसा लगे गा बदमे फिर खयल आया कया बत है ये तो आपने भैया हैमेने अपना दरेस्स निकला और वैसे हि बरा और निकर पर नहने चलि गै।हमने तलब मे बहूत मजा किया नहते नहते जब मे पनि के उपर आइ तो मेरि बरा निकल गै और पनि के अनदर चलि गै।मेने शरमसे पनि के अनदर बैथि रहि भैया बोले चल अब मे तुमहे पकदुनगा चल भग और भैया मेरे पस्स आये और बोले कया हुआ मे बोलि भैया मेरि बरा पनि के आनदर चलि गै है तो भैया बोले तो कया चल कुच नहि होता मे बोलि आप को कया एक तो मे पूरि ननगि हू और आप बोल रहे हे तो कया?

भैया बोले अछा ये बत है मेरि बहना तो एक कम कर मेने अपनि निकर भि निकलि आब मे भि ननगाउर तुमभि ननगि।अब चल भगमे भगि झत से मुसे भैयने पकद लिया बदमे मे भैया को पकदने गै तो भैया एधर उधर पनि मे गये और मे भि पूरे जोश के सथ उनका पिछा कर रहि थि भैया भगते भगते पनिके बहर किनरे पर गये मे भि उनके पिचे किनरे पर गै हम दोनो बहूत दूर चले गये तभि मुज़े खयल आयकि मे तो पूरि ननगि ही मे उधर हि खदि हो गै।भैयने पस्स आ रहे थे तब मैने भैया को देखा तो अरे ये कया है लमबा सा भैया भि मेरे पस्स आ के खदे हो गै और मुज़े और मेरे पूरे ननगे शरिर को देखने लगे एसे हि हम 5मिन तक खदे रहे भैया के उस लतक रहे हिसे को मे देखा रहि थि और भैया पूछा

मे -भैया ये कया है,

भैया ने समिले दे कर बोले एसे लनद या जदूइ चदि कहते हे

मैने बोला कया बोलो ना

तो भैया बोले सच मे एक कम करो एसे अपने हथ मे लेकर मसलो और देखो

मेने वैसा हि किया तो येकया जो हिस्सा मेरे आथमे था वो देखते हि देखते मेरे हथ से बहर जने लगा और उसका वो लोहे जैसा हो गया मेने भैया से पूचा एसका कया करते है तो भैया बोले एसे मेरे चुत पर हथ लगकर बोले एथर अनदर दलते है मु मे दलते है और पिचे दलते है

मे शरमैं और जने लगि तब भैया बोले किधर जा रहि हो मे बोलि कपदे पहने ।भैया बोले खना एसा अधूरा नहि चोदा जता मेने पोचा किधर है वो बोले एसको तुमने गरम किया ना आब इसको थनदा करो एस तरह कहा कर मुज़े किस्स करने लगे मेरे बूबस को दबने लगेमुज़े लेतया औए मुज़े उलता बैथने को कहा मे बोलि नहि भैया तो भैया बोले कया नहि 2सल से एस दिन का मे रह देख रहा हू और तुम कहति हो नहि चुप चप सेक्स का आनद लो या हा कहकर मेरि गनद मरने लगे मुज़े बहूत दरद हो रहा था बदमे मुज़े सिधा किया और मेरे चुत मे दलने लगे चुत के हिसब से उनका लुनद बदा था लेकिन वो उसे घुसा रहे थे मे बोलि भैया नहि जयेगा एसमे चोता है भैया बोले चुप सलि रनदि आब तु मुज़े समजयेगि कया चोता और कया बदा है एसा कहकर उनहोने आहिसता आहिसता लनद आनदर दलने लगेऔर आखिर मे उनहोने पूरा का पूरा 9″ का लुनद मेरे चुत मे गुसद दिया तभि मे चिला उथि दरद सहेन नहि हो रहा था लेकिन बदमे मज़ा आने लगा और मे भैया को बोलि मर जोरसे और मर फ़द दल भैया भि जोर से करने लगे 5 मिन बद भैयने अपना लनद निकला और मेरे मुह मे दिया और मेने चुसने को चलु किया तभि उनहोने अपना पनि मेरे मुह मे दला ।मे भि अचा फिल कर रहि थि फिर हमरे मे उस दिन बद भै बहन का नहि मिया बिबि का रिशता पैदा हुआ।बद मे हम घर चले गये 3दिन बद मे चचा के पस जने वलि थि एसलिये पपा ने मुज़े चोदने का फ़ैसला किया हम त्रैन मे बेथेहमरा 2’नद सलस्स का सबिन था उसमे हमरे एलवा 2 अमरिकि थे उसमे एक लदकि और एक आदमि था।हमने सोचा कि मिया बिबि होनगे कयो कि वो करहि ऐसा रहे थे कि समज जऊ।।।।।।।।। हमरा त्रवेल 3घनते का था। आधे घनते बद उनह दोनो मे किस्स चलु किया और 10 मिन तक किस्स करते रहे।तभि उस लदकि ने आदमिके पनत मे हथ दला और उसका मसलने लगि।बद मे तस आने के बद वो जरा वकत केलिया चुप हो गये तभि उनहोने हमे पूछा कहा जा रहे हे,,,,,,,,!ये कोन है।।।।।।।।।।! तभि उस लदकिने उस आदमिको पपा नम लेके पूकरा हम दोनो दनग हो गये मेरे पपा ने पुचा ये आपकि लदकि है वो बोले हा फिर अप ये कया कर रहे थे,वो बोले हम ओशो के शिश है और सेक्स कभ

sexy_boobs_girl

इ नहि देखता कि भै बहन है या पिता पुत्रि सेक्स आखिर सेक्स होता है उसे महसुस्स किया जना चहिये

उनहोने मेरि तरफ़ देख कर बोले आप भि मेरे जैसा आनद उथै ये मज़ा आयेगा और हम दोनो को एक गोलि दियि देर बद पपा मेरि तरफ़ देखा कर मुसकरने लगे मे भि मुसकरै फिर उनहोने मुज़े किस्स किया और अपने और मेरे कपदे निकले।हम सित पर आचि तरहसे नहि कर पा रहे थे तो उन दोनोने हमे निचे बैथया पपने मुज़े चुद कर बैथ गये।और मे और सेक्स पना चहते थि एसलिये मे पपा को एशरा करने लगि कि फिर एक बर दुबकिलगैये एस तलब मे ।वो आदमि बोला कया हुआ ओलद मन एतने मे हि थक गये मेतो 3बर करने के बद हि चुप बैथता हु ऐसा कहकर उसकि लदकि पपा के पस गै और पपा का लनद मसलने लगि और अपने मुह मे लेने लगि मे हि सेक्सकि भूक से देखने लगि तभि मेरे समने उस आदमिने आपने कपदे निकले और मुज़े चुदना चलु कियऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हहूऊऊऊऊऊओआवज निकलने लगे मेरे मुह से और दो शोत होने के बद वो अपने लदकि को लगने लगा।बदमे मेरे पपा को बोला कया मज़ा आया ना।पपा बोले हा।वो बोला तुमने पनि नहि गलया अनदर। पपा बोले पगल है वो मेरि बेति है वो बोला कया हुआ येभि मेरि बेतिहि है और मेरे बचे कि मा बनन्ने वलि है और एससे जो बदि है उसकि भि शदि हो गै है लेकिन वो अपने पतिसे नहि अपने पपसे बछा चहते है एस लिये मैने उसे भि चुदा और आज वो मेरे 1बचेकि मा है ।एसे कहते सेक्स ।वो बोला हमरे घर मे मे मेरि बिबि और दो बेति और उसका पति हर सुनदय कोमिलकर सेक्स एनजोय करते है मेरि बिबि असपतल मे है वो मेरे बेतिके पतिके बचे कि मा बनने वलि है,मेरि ये बेति शदि नहि करना चहति है वो बोलति है अगर सेक्स हि चहिये तो घरमे है ना पपा है जिजजि है एसलिये वो शदि बिना हि मा बन्ना चहते है यह सुनकर मे और पपा दनग रह गै

कुच देर बद हम मेरे चचा के पस गये चचको दो लदकिया थि बिबि गुजर गै थि एक लदकि 9सल कि और बदि 20 कि थि ।मेरे पपने जो कुच त्रैन मे हुआ और सुना वो चचा बतया।और बोले कि मे अब सेक्स के बरेमे एस बा से सहमत हू ।चचने मेरि तरफ़ देखा यह मेरे पपने देखा तो वो बोले आज हम भि सेक्स एनजोय करेनगे खना खने के बद हम गरदन मे बैथे चचने बोला उनकि लदकि को जैसे समजये तब मैने जका र उससे सेक्स किया तभि चचा और पपा उधर आये और उनहोने मिलकर मेरि और सिसतेर कि चुदै कि चचने मेरे सथ किता उनका 3सल पोरना जितना एकथा पनि था सब निकल आया और मेरि ची मे दल दिया।

कुच दिनो बद मेने दुरति फ़िल्ल किया तो दर बुलया दर बोले सोनगरतस आप मा बने वलि है यह सुनकर मेरे होश हि उद गये और सहचने दर से कहकर मेरा अबोशन करवया।

एलज होने के बद कुच महिनोतक मे चचके पस्स हि रहने लगि 2महिने तक सेक्स नहि किया था एसलिये मेरे पूरे बदन मे सेक्स चदने लगा मे दोपहर को उथि तो देखा चचा कमसे बहर गये हे और बकिके सब लोग अपने कम से बहर गये थे।तभि मेरि नजर हमरे नोकर पर गयि उसकि उमर 42सल होगि मेने उनको चै देने को कहा और अपने रून मे चलि गयि मेने रूम का दरवजा खुलहि रखा और अपने सरे कपदे निकले और ओइल लगने लगि 5मिन बद नोकर रमु मेरे रूम मे चै लेकर आया उसने मुज़े ननगा देखा और सोर्री बोलकर बहर जने लगा मे बोलि नहि रमु पलस कुचा बत नहि और मे वैसे हि उनके पस्स चलि गयि और उनकि धोति निकलि उनका 2इनच चोधा और 10″ लमबा लनद मुहमे लेकर चुसने लगि

एस तरह यह मेरा एक महिने मे सेक्स का तजूरबा था पहले भैया,पपा,चचा।आब शदि के बद पति,और देवर

Writer: Raskhi

Editor: Sunita Prusty

Publisher: Bhauja.com

1 Comment

  1. Hi My Dear All,
    Sweet ‘n’ Sexy Bhabhi’s, Aunty’s And Sexy Teen’s,

    If You Want Sexual Pleasure Or Temporary Bed Partner, Then Don’t Be Shy And Don’t Wait ‘n’ Just Put A Mail To Me For Unbelievable Sexual Pleasure With Full Privacy And 100% Safely As You Like.
    I Am Available 24 X 7.
    My mail Id : [email protected],

    Try Only Once And Then Remember Every Time For This Treat… Forever.

    Please Mail Me Only Bhubaneswar, Khordha & Katak Female Person, Because Am From Bhubaneswar.

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*