चुपके चुपके चुदाई

Submit Your Story to Us!

मैंने जैसे ही कमरे में प्रवेश किया तो देखा की टिंकू की लुंगी बिल्कुल खुली है और उसका लंड तन कर खड़ा है लंड पर लुंगी का एक कोना फँस गया है इसलिए लंड पूरा नही दिखायी पड़ रहा है लेकिन उसके पेल्हड़ बिल्कुल साफ़ दिख रहे है मैंने थोड़ा अन्दर झाँका तो देखा की उसकी झांटे घनी घनी बड़ी अच्छी लग रही है मेरी नीयत इस लंड पर ख़राब हो गयी तभी मैंने अपने सारे कपड़े खोल दिए और बिल्कुल नंगी हो गयी घर में कोई नही था उस समय केवल हम दो के अलावा मैं नंगी नंगी धीरे धीरे उसके पास गयी और चुपके से लुंगी का कोना नीचे गिरा दिया अब मुझे लौडा पूरा दिखायी पड़ने लगा सारी की सारी लुंगी जमीन पर आ गई उसका पूरा नंगा बदन अब मेरे सामने था मैंने धीरे से अपना हाथ बढाया और उँगलियों से लंड पकड़ लिया मन ही मन में कहा हाय रे इतना बड़ा लंड ये तो मेरी चूत को फाड़ने के लिए काफी है वहीँ पर एक स्केल पड़ा था मैंने उसे उठाया और लंड को नाप कर देखा तो मेरी आखें खुली की खुली रह गयी साला ८” लंबा लंड और इस उमर में अभी तो यह केवल २१ साल का ही है मैं सोचने लगी अभी यह एक आध इंच तो और बढ़ ही जाएगा आज तो मैं इसके लंड का पूरा मज़ा लेकर ही छोडूंगी अब मेरी हिम्मत बढ़ने लगी मैंने लंड को मुट्ठी में ले लिया और पूरा सुपाडा निकाल कर ऊपर नीचे करने लगी इस समय मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था काली काली झांटों वाला लंड मुझे बड़ा मस्त और खूबसूरत लग रहा था मैंने अपनी मुठी और कस लिया लंड और मोटा तथा लंबा होता गया जब साला बिल्कुल तनतना गया तो मैं कस कर हिलाने लगी मुझे लौडा हिला हिला कर देखने में बड़ा मज़ा आता है अब मैं यह समझ गयी की टिंकू जग गया है और उसे लंड पकड़वाने में मज़ा आने लगा है
मैंने कहा:- टिंकू यार तेरा लंड तो बहुत तगड़ा है
वह कुछ नही बोला लेकिन अपनी गांड उछाल कर लंड मेरे मुह में डालने की कोशिश करने लगा मैं भी लौडा चूसने के लिए बेताब थी लेकिन मैंने कहा पहले तुम मेरी चूंची चुसो तब मैं तुम्हारा लंड चूसूंगी यह सुन कर वह उठ बैठा और अपने दोनों हाथों से मुझे अपनी तरफ़ घसीट कर चिपका लिया बोला आजा मेरी रानी तेरे लिए ही तो लौडा खोल कर सो रहा था आज तो मैं तुझे चोद कर हलवा बना दूंगा वह बोली अच्छा तो तू सोने की एक्टिंग कर रहा था तुझे इतना नाटक करने की क्या जरूरत थी मुझे सीधे सीधे लंड पकड़ा दिया होता मैं टो तेरा लौडा बहुत दिनों से पकड़ना चाहती थी अरे तू क्या मुझे हलवा बनाएगा मैं ही तेरे लंड का हलवा बना दूंगी यह कह कर मैं उसका लंड चूसने लगी और वह मेरी चूत चूसने लगा
लंड चूसते समय मैं उसकी मखमली झांटो पर हाथ फेर रही थी हाय कितना अच्छा लग रहा था मेरी भी झांटे उसको अच्छी लग रही मैंने करीब १० दिन पहले झांटे बनाई थी तो अब तक थोडी थोडी उग आयी थी टिंकू ने कहा कि मुझे छोटी छोटी झांटे बहुत पसंद है इतने में मैं उठी और उसके लंड पर बैठ गयी लौडा पूरा का पूरा साला मेरी चूत में घुस गया अब मैं थोड़ा झुक कर उसका लंड चोदने लगी वह भी अपनी गांड उछाल उछाल कर मेरा साथ दे रहा था तब मैंने पूंछ ही लिया की टिंकू क्या तुमने पहले किसी लड़की को चोदा है वह मजाक करता हुआ बोला लड़की नही चोदा बल्कि उसकी बुर जरूर चोदा है मैंने कहा किसकी बुर तो वह बोला अपनी पड़ोस वाली रूपा भाभी की मैंने कहा अरे वह तो ३० साल की है दो बच्चों की माँ है उसने जबाब दिया तो क्या हुआ चूत तो चकाचक है और खूब बड़े मजे से निडर होकर प्यार से चुदवाती है मेरा लंड चूस चूस कर उसी ने इतना बड़ा कर दिया है यह कह कर टिंकू ने मुझे नीचे पटका और मेरे पर चढ़ बैठा पूरा लंड घुसेड कर चोदने लगा मैंने कहा तू तो बड़ा चुदक्कड़ हो गया है कहाँ से सीखा यह सब तब उसने बताया मुझे चोदना रूपा भाभी ने ही सिखाया है अब वह मुझे कुतिया बना कर पीछे से चोदने लगा मैंने कहा कि क्या तुम मेरी गांड भी मरोगे तो वह बोला अगर तू कहे तो तेरी गांड में भी घुसेड दूँ लंड को तो कोई न कोई छेद चाहिए मैंने कहा तुम साले २१ साल मेही इतना सीख चुका है तो तेरे पास तो लौडियों की लाइन लगी रहेगी अरे यार लाइन तो मेरे इस लंड की वज़ह से हो गी यह कह कर उसने मेरे मुह में लंड डाल दिया और मेरा हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रखा और कहा ले बहन चोद जल्दी जल्दी सड़का मार दे मैं तेरे मुह में ही झड़ना चाहता हूँ मैंने कहा अबे चोदू की औलाद मादर चोद तू खुसी से झड़ ले कोई बात नही तेरा तो लंड चूसने में मुझे खूब मज़ा आता है
मिसेज़ रीता चौधरी ने अपनी यह रंगीन घटना बलवंत का लंड हिलाते हुए सब को सुनाया और कहा कि उसकी ज़िन्दगी का पहला लंड टिंकू का ही था बलवंत रीता कि चूंचियों से खेल रहा था रीता के बगल में नंगी लेटी मिसेज़ मंजुला कौल ने रीता से पूंछा तुमको मेरे पति का लंड कैसा लग रहा है
रीता :- यार तेरे मियां का लंड तो चकाचक है इसकी क्या झांटे तुमने आज ही बनाई थी इसको देख कर लगता है कि इसकी झांटे उगी ही नही यह साला गंजा लंड है
मंजुला:- नही यार मैंने नही बनाई हुआ यह कि सबेरे सबेरे खन्ना और उसकी बीवी आ गए एक बार उनके साथ चोदा चोदी का कार्यक्रम हो चुका था मैं अन्दर जाकर चाय बनने लगी और जब चाय बनाकर लाई तो देखा कि तीनो लोग नंगे मिसेज़ खन्ना मेरे हसबंड का लंड सहलाने में लगी थी और खन्ना अपना ही लंड हाथ में लेकर मुठिया रहे थे तो मैंने उनका लंड पकड़ लिया इसी तरह चुदाई के बाद मिसेज़ खन्ना ने इनकी झांट बना दी और खन्ना ने मेरी बना दी
रीता:- अच्छा अब तुम बताओ कि मेरे पति का लौडा कैसा लगा तुमको
मंजुला:- बड़ा सयाना है तेरे हसबैंड का लंड बहन चोद मोटा भी है और लंबा भी सुपाडा तो अंडाकार है जिसे चाटने का मज़ा ही कुछ और है पेल्हड़ भी मस्त है और लंड इतनी ज्यादा सख्त है कि आज यह मेरी चूत फाड़ डालेगा
रीता :- यार एक बात है हसबैंड बदल बदल कर चुदवाने में ही मुझे मज़ा आता है
मंजुला :- अरे यार अब तो मेरा हसबैंड मुझे चोदता ही नही बस परायी बीविओं को ही चोदता रहता है
रीता :- हां रे मेरा भी हसबैंड ऐसा ही है मझे चोदे हुए उसको एक जमाना हो गया अब उसे परायी बीविओं को चोदने का चस्का लग गया है
मंजुला:– हां यार आज कल तो परायी बीविओं मिल भी बहुत जाती है
रीता :- हां यार अरे हम दोनों को ही देख लो कोई चोदने वाला हो तो हम लोग झट से अपनी चूत उसके सामने परोस देते है
मंजुला:- यार एक बात और भी है नए लंड का अपना एक मज़ा है नया चोदने का तरीका चूत चटवाने का नया पन सब कुछ मज़ा देता है
रीता :- यही तो बात उधर भी है नयी चूत लंड चूसने का नया तरीका नए तरीके से चुदवाना आदि
मंजुला ;- यानी कुल मिला कर बात यह है बीवी अदल बदल कर चोदो और हसबैंड अदल बदल कर चुदवाओ
रीता:- अर्री मंजुला तुम यह तो बताओ कि तुमने लंड पहली बार किसका पकड़ा
मंजुला बोली मैं उनदिनों केवल २२ साल की थी मैं अपनी मौसी के घर गयी थी मेरी मौसी मुझसे लेवल ४ साल ही बड़ी थी यानी वह २६ साल की थी उमर में ज्यादा अन्तर न हो ने के कारन हम दोनों सहेलियों जैसा ही व्यव्हार करती थी कभी कभी तो हम गाली देकर भी बात कर लेती थी कपड़े बदलते समय मैंने कई बार उन्हे नंगी देखा था और उन्होंने मुझे नंगी देखा हम दोनों की चूंची लगभग बराबर ही थी हां मौसी की गांड थोडी ज्यादा चौडी थी बीच में मौसी दो दिन के लिए शहर के बाहर चली गयीं अब घर में मैं और मौसा ही थे दूसरे दिन मौसा नहाने के लिए आगन में बैठ गए नहा कर अपनी तौलिया से बदन पोंछ रहे थे मैं आगन के वरन्दे में बैठी थी मैंने देखा की मौसा हाथ पैर पोछने के बाद अपना लौडा भी पोछने लगे फिर तौलिया के दोनों सिरे पंख जैसे दो बार फैलाया और कमर में लपेट लिया तौलिया फैलाते समय उनका लौडा मैंने दो बार साफ साफ देखा यार देखकर मेरा दिल लौडे पर आ गया गोरा चिकना लंबा लंबा सुपाडा आधा खुला हुआ उस लंड ने मेरी जान ले ली मेरी चूत में और मेरे मुह में दोनों जगह पानी आ गया तब मैंने ठान लिया की अब तो लंड पकड़ कर ही दम लूंगी
जाडे के दिन थे गुनगुनी धूप अच्छी लग रही थी मौसा को मालिस करवाने का बड़ा शौक था मैंने एक चटाई जमीं पर बिछा दी और उनसे कहा मौसा जी आईये थोडी धूप खा लीजिये वे आकार बैठ गए मैंने तेल की शीशी उठाई और कहा मौसाजी आप मालिस करवाएंगे वे बोले हां कर दो तो अच्छा ही है बस मैं मन ही मन खुश हो रही थी की आज तो लौडे मियां की खैर नही मैंने एक पेटी कोट पहना और पतली सी ब्रा जिसमे घुंडियों को छोड़कर पूरी चूंची दिखायी पड़ती थी मैंने उन्हें चित लिटा दिया और मैं दोनों टांगो के बीच में बैठ गयी वे एक छोटा सा अगौछा पहने थे मैंने पैरों में मालिस करना शुरू किया मालिस करते करते मैं अपनी चूंची और उभार देती थी मैंने देखा की उनकी नज़र मेरी चूंचियों पर ही थी अब मैं जांघ तक पहुच गई गयी थी वे एक हाथ से अपना लौडा दबाकर मालिस करवा रहे थे मैंने धीरे से अपना हाथ उनकी जांघो के बीच फिर डाला तो लंड मेरे हाथों से टकराया टकराकर वह और तन गया मैंने उनकी तरफ़ देखा और मुस्करा पड़ी तीसरी बार मैं अपना हाथ उनके पेल्हड़ तक ले गयी और लंड के ऊपर जहाँ पर झांटे उगती है वहां तक तेल लगा कर हाथ नीचे ले आई
उनके मुह से निकला :- मंजुला एक बार फिर वहीँ पर तेल लगाओ
मैंने कहा :-अरे मौसा यह अंगौछा हटा दो न तब तो अच्छी तरह तेल लगते बनेगा
वे बोले :- मंजुला तुम ही हटा दो यार
बस यह सुनकर मेरी हिम्मत बढ़ गयी मैंने अंगौछा निकाल कर फेक दिया वे बिल्कुल नंगे हो गए मैंने झट से लंड पकड़ा और उस पर तेल की मालिस करने लगी लंड के सुपाडे पर तेल डाला और उँगलियों से रगड़ने लगी फिर नीचे से ऊपर और ऊपर से नीचे मलती रही पेल्हड़ पर भी तेल मालिस किया चारों तरफ़ तेल डाल कर दोनों हाथों से जुट गयी तो लंड साला चौगुना तनतना उठा लंड इतना प्यारा प्यारा और खूबसरत होता है मुझे उस दिन ही पता चला
मौसा बोले :- मंजुला तुम किस की मालिस कर रही हो
मैंने कहा:- तुम्हारे लंड की तुम्हारे लौडे की तुम्हारे पेल्हड़ की
मौसा :- तू मादर चोद बड़ी सुंदर है तुम्हारी बहन चोद चूंची बड़ी मजे दार है
मैंने कहा:- ये लौडा भी तो मजे दार है देखो साला फुफकार मार रहा है
मेरा हाथ तो लौडे पर ही टिका रहा लेकिन थोडी देर में उन्होंने मुझे अपनी तरफ़ घसीट कर चिपका लिया और मेरी चूंचियां मसलने लगे लेकिन मेरा एक हाथ अब भी लंड पर ही था फिर मौसा ने तेल की शीशी लेकर मेरी मालिस करनी शुरू कर दी मालिस करते करते लंड का सुपाडा मेरी चूत पर रखा और एक धक्का मारा तो लंड सट से अन्दर घुस गया अब वे जोर जोर से चोदने लगे
मैंने कहा:- भोसड़ी के मौसा जल्दी जल्दी चोद पेल दे पूरा लौडा फाड़ दे मेरी चूत तू तो साला बड़ा चोदू निकला मैं समझती थी की तू सीधा है पर है तू बड़ा हरामी
वे बोले:- तेरी चूत तो साली बड़ी मस्त है देखो कैसे बड़े प्यार से लौडा खा रही है वैसे तो तू बड़ी शर्मीली दीखती थी आज पता चला की तू कितनी बड़ी बेशरम औरत है और लंड की शौकीन है
मैंने कहा:- हां यार तेरे जैसा लंड अगर किसी चूत को मिलेगी तो वह शौकीन हो ही जायेगी
मुझे इस चुदाई में ज्यादा मज़ा आ रहा था आगे पीछे से चोदने के बाद वे मेरी चूंचियों पर झड़ गए हम लोग एक दूसरे पर आधे घंटा नंगे ही लेते रहे फिर उठ कर कुछ नास्ता किया और बात रूम में नहाने चले गए हम एक दूसरे को साबुन लगाकर नहला रहे थे मैंने लंड पर साबुन लगाया खूब रगडा फिर शावर खोल कर पानी से धो दिया लौडा एकदम चमक गया मुझे लालच आया और मुह खोल कर लंड को चूसने लगी साल ९” लंबा ५’ चौडा लंड मुझे बड़ा मज़ा दे रहा था मौसा ने भी मेरी चूत चाट चाट कर लाल कर दिया
सच बतायूं उस दिन बाथरूम में ही खूब मजे से चुदवाया मौसी के आने के बाद मैंने सारी कहानी उन्हें बतला दी
वे खुस होकर बोली :- मंजुला कोई बात नही जब तुम्हारी शादी हो जायेगी तो मैं तुम्हारे हसबंड से वैसे ही चुद्वायुंगी जैसे तुमने मेरे हसबंड से चुदवाया है
मैंने कहा :- हां मौसी जरूर हम दो नो एक दूसरे के सामने ही हसबंड बदल बदल कर चोदा चोदी करेंगे
रीता बोली:- यार तेरी तो कहनी बड़ी मसाले दार थी देख इन दोनों के लंड कैसे उछल उछल कर सुन रहे थे
मेरे लंड वालों और मेरी चूत वालियों मेरी यह कहानी सुन कर एक बात जरूर नोट कर लो कि चुपके चुपके लंड पकड़ने का भी अपना मज़ा होता है लेकिन चुपके चुपके चुदवाने में मज़ा नही है चुदाई का मज़ा लेना है तो निडर हो जाओ बेशरम हो जाओ खूब अश्लील गालियाँ एक दूसरे को दो लौडियों और औरतों के मुह से गाली सुनने से लौडा खूब तन्तानाता है वही चूत में जाकर तहलका मचा देता है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*