Hindi Sex Story

हाईवे में रोमांस (Highway Mein Romance)

हाई जानू
मैंने बताया था न कि मैं और करन हॉलीडेज के एंड में लास वेगास जा रहे हैं। वेल, हम रोड ट्रिप करके वहाँ गए।
यह रोड ट्रिप नार्मल होती अगर मैं और वह अकेले नहीं होते। अभी हम होटल पहुँच गए है और करन बाथरूम में है तो मैंने सोचा कि तुम्हें इस सेक्सी रोड ट्रिप के बारे में बताऊँ।
हमने एक कार हायर की थी। रास्ता पांच घंटे का था और हम दोपहर तीन बजे निकले अपने होटल रूम से। एक घंटे में हम अमेरिका के सिटी से बाहर ब्यूटीफुल फार्म्स और लक्स जैसे नज़ारे देखने लगे। गाड़ी में करन ने कंट्री म्यूजिक लगाया था और ऐसे हमारा सफर सुहाना होने लगा।
कुछ देर में शाम हो गई और अँधेरा छाने लगा। करन के चेहरे पर एक मुस्कान थी।
मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ?
तो उसने कहा कि आज की शाम मज़ेदार होगी। यह सुनकर मेरे चेहरे पर भी मुस्कान आ गई क्यूंकि मैं जानती थी कि उसके मन में क्या चल रहा था।
हाईवे सुनसान था और सिर्फ हमारी गाड़ी रास्ते पर थी। सब कुछ ठीक जा रहा था कि अचानक करन ने गाड़ी रोड से हटाई और फील्ड में ले गया।
वहाँ उसने कार बंद कर दी और स्माइल करके मेरी ओर देखने लगा।
मैंने कहा- क्या हुआ? कंट्रोल नहीं हो रहा क्या?
उसने कहा कि सफर एक घंटे के लिए डिले हो गया है।
मैंने पूछा- क्यों?
तो उसने कहा कि ड्राइवर को एनर्जी चाहिए।
मैंने हँस के कहा कि अगर मैं मूड में आ गई तो ड्राइवर की सारी एनर्जी चली जाएगी।
उसने कहा कि कोई बात नहीं और मैंने उसका कालर पकड़ कर उसे अपनी और खींचा और उसे किस किया।
उसके होंठों के स्पर्श को मैं चाह कर भी नहीं भुला सकती। वह सॉफ्टनेस और टेस्ट जो उसे किस करने से आती थी वह मैं बिल्कुल रेसिस्ट नहीं कर सकती। मैं उसे एक अर्जेंसी के साथ किस करती गयी और वह मुझे डोमिनेट करने दे रहा था।
अचानक कोई गाड़ी उस रोड से गुज़री और हम पर कुछ सेकण्ड्स के लिए लाइट आई।
हम दोनों अलग हुए और मैंने उसे कहा कि गाड़ी फील्ड के और अंदर ले जाते हैं वरना कोई देख लेगा हमें।
लेकिन करन ने मेरी बात नहीं मानी, उसने कहा कि यहाँ ओपन में जो एक्साइटमेंट है वह कहीं और नहीं।
मैंने कहा कि मैं ओपन में कुछ नहीं करने वाली, तो उसने कहा कि मुझे बस मज़ा लेना है, जो करना है, वह खुद ही कर लेगा।
फिर उसने अपनी जैकेट उतारी और बैक सीट पर फेंक दी। उसने अपने हाथों से मेरे बदन को छुआ और कहा कि कपड़े उतारो ना !
मैंने कहा- नहीं,
लेकिन उसने मेरे बॉडी को टच और स्क्वीज़ करके मुझे मूड में ला दिया।
कुछ ही देर मे मैं सिर्फ ब्रा-पैंटी मे वहाँ बैठी थी और वह मेरे बदन को टॉप टू बॉटम चूम रहा था। उसके गीले होंठ जब भी मेरे बेयर स्किन को छूते थे, मेरे अंदर एक लहर सी दौड़ पड़ती। मेरे हाथ उसके बैक पर थे और लविंग्ली उसके बॉडी को सहला रहा था।

READ ALSO:   ऐसा प्यार फिर कहाँ-2 (Yesa Pyar Fir Kanha --2)

उसने मेरी ब्रा को उतार दिया और अपने हाथों से अपने अंदर की भूख मिटाने लगा। उसने बहुत देर तक वही काम किया और फिर उसने कहा कि अब बाकी का काम बाहर करते हैं।
मैंने कहा- नहीं, किसी ने देख लिया तो फिर काम खत्म।
लेकिन करन को कोई डर नहीं था, वह मुझे गाड़ी के बाहर ले गया, उसने मुझे गाडी के अगेंस्ट खड़ा किया और मेरे बदन को चूमने लगा। वह मेरे बदन को चूमते-चूमते मेरी पैंटी तक आया।
उसने बड़े प्यार से वह भी उतार दी और अब मैं वहाँ एक फील्ड में बिन कपड़ों के खड़ी थी।
उसने मुझे लिफ्ट किया और हमने प्यार का मदहोश सिलसिला शुरू किया। उसके डेलिकेट और लविंग अंदाज़ की मैं दीवानी हूँ और ओपन में इस तरह प्यार करने के एक्साइटमेंट ने मुझे काफी मज़ा दिया।
पता नहीं हम कितनी देर तक ऐसे ही एक दूसरे को प्यार करते रहे। बस कुछ देर में हम दोनों का प्यार पीक पर था और लाउड मोंस के साथ मैं उस मदहोशी में डूब गई। मेरी पलकें थकान से बंद हो गयी और करन मुझे कार के अंदर ले गया।
हमने कुछ देर रेस्ट करके कपड़े पहन लिए और करन ने गाड़ी स्टार्ट करके हमारी जर्नी रिज्यूम कर दी।
हम एक घंटे में लास वेगास पहुँच गए और वहाँ पर एक होटल रूम बुक कर दिया।
उस रात हम थके हुए थे इसलिए एक दूसरी की बाहों में सो गए।
इस तरह मैंने एक मज़ेदार रोड ट्रिप को एन्जॉय किया।
मेरे अगले कॉन्फेशन का इंतज़ार करना स्वीटहार्ट…
मुआअह!!

READ ALSO:   चाची का गर्म वाला प्यार (Garm Chachi Ka Garam Vala Pyar)

Editor: Sunita Prusty
Publisher: Bhauja.com

Related Stories

Comments