पति के दोस्त से चूत चुदाई (Pati Ke Dost Se Choot Chudai)

दोस्तो, मुझे अन्तर्वासना डॉट काम की कहानियाँ पढ़ना और दूसरों को पढ़ कर सुनाना बहुत अच्छा लगता है।
आज मैं आपको अपनी कहानी बताने जा रही हूँ जो मेरे जीवन की सच्ची घटना है।
मेरी उम्र 44 वर्ष एवं पतिदेव कमल जी की 49 वर्ष है।
शादी के बाद कुछ साल तक तो सेक्स लाइफ बहुत अच्छी रही पर बच्चे होने के बाद वो रोमांच नहीं रहा और सेक्स बोरिंग होता जा रहा था तो कमल ने अपने दोस्तों की सेक्स की बातें बताना शुरू किया।
यह बात लगभग दस वर्ष पहले की है।

इन्होंने बताया कि इनके दोस्त राजन का लिंग बहुत मोटा और लम्बा है, उसका सुपाड़ा नोकदार है, जब उसकी बीवी तीन बार झड़ जाती है, तब वो झड़ता है, और अगर तुम चाहो तो उससे चुदाई का मजा ले सकती हो।
इन सेक्सी बातों से इनका लिंग ज्यादा कड़क हो जाता था और मेरा भी उत्साह बढ़ जाता और चुदाई में ज्यादा मजा आता था।
यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं।
कुछ समय पूर्व इनके दोस्त राजन किसी काम से हमारे शहर आये और हमारे यहाँ रुके।
वो मुझे बहुत अच्छे लगे।
इन्होंने बताया- हम लोग बचपन में एक दूसरे के साथ सेक्स का खेल खेलते थे और एक दूसरे का लिंग चूमते चाटते थे। राजन का लिंग सचमुच बहुत मोटा और लम्बा है, चाहो तो तुम देख लो और उससे मजा भी ले सकती हो।
तो मेरा भी मन होने लगा।
रात में ये दोनों दोस्त दूसरे कमरे में एक दूसरे से बचपन की बातें करते रहे और मजे लेते रहे।
दोनों बच्चे मेरे साथ सो रहे थे तो मैं कुछ नहीं कर सकी।
सुबह इनको किसी काम से जल्दी ऑफिस जाना पड़ा।
बच्चों के स्कूल जाने के बाद घर में मैं और राजन हम दोनों ही बचे।
राजन ने मुझे अपने पास बुलाया और बिस्तर पर बैठा लिया और बचपन की बातें बताने लगा।
उसकी बातों में मुझे बहुत मजा आ रहा था।
अचानक राजन ने मुझे अपनी बाँहों में भर लिया और मेरे गालों को चूमने लगा और मेरे होंठ चूसने लगा।
उसका स्टाइल कुछ अलग था और मैं कुछ न बोल सकी।
फिर वो ब्लाउज के ऊपर से ही मेरे स्तन सहलाने दबाने लगा और मैं मजे से मस्त होने लगी।
अब उसने अपना पैंट खोलकर अपना लंड मेरे हाथ में पकड़ा दिया और मैं उसे सहलाने लगी।
वाह, क्या मस्त मोटा और लम्बा लंड था उसका !
नुकीला सुपारा सचमुच बहुत प्यारा था जो कि मेरे पति से एकदम अलग था।
मुझे अहसास हुआ कि कमल सच बोलते थे।
मैं मजे में आकर उसको चूमने लगी तो वो फूल कर और मोटा हो गया।
मुझे तो डर लगने लगा कि यह इतना मोटा लंड मेरी तंग चूत में कैसे जायेगा।
फिर उसने मेरे और अपने सारे कपड़े उतार दिए अब हम दोनों बिल्कुल नंगे थे।
उसने मुझे सीधा लिटा दिया और मेरी चूत को सहलाने लगा और अपनी जीभ अंदर डालकर अंदर बाहर करने लगा।
मेरी चूत गीली होकर पानी छोड़ने लगी, मैं तो मजे में पागल हो रही थी।
फिर उसने अपना लंड मेरी चूत के मुख में लगा दिया और धीरे धीरे अंदर डालने लगा।
वाह, क्या अहसास था… मेरी चूत में पहली बार कमल के अलावा किसी और का लंड जा रहा था, वो भी राजन का मोटा नोकदार लंड!
मुझे बहुत मजा आ रहा था।
फिर उसने पूरा लंड अंदर डालकर धीरे धीरे चोदना चालू किया और जी भर के चोदा।
मैं दो बार झड़ चुकी थी पर वो झड़ने का नाम ही नहीं ले रहा था।
फिर वो नीचे लेट गया, मैं ऊपर से आकर उसका नोकदार लंड अपनी चूत में धीरे धीरे अंदर बाहर कर मजे लेने लगी, मैंने कूद कूद कर चुदाई का मजा लिया और तीसरी बार झड़ने लगी अबकी बार हम दोनों एक साथ झड़े।
सचमुच चुदाई में इतना मजा जीवन में पहले कभी नहीं आया था।
फिर कमल घर आ गए और हमने और भी बहुत मजे किये, वो सब फिर कभी आगे बताऊँगी।
तो दोस्तो, यह थी मेरी पति के अलावा किसी अन्य मर्द से चुदाई की पहली कहानी, आपको मेरी कहानी कैसे लगी?
कमेंट्स जरूर बताइयेगा।
आपकी शीलू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *